विद्यार्थियों को इंडस्ट्री के काबिल बनाया जाएगा: कुलपति प्रो निर्मला एस मौर्य


पीयू और पेट्रासिस ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के बीच एमओयू

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति सभागार में सोमवार को वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय और मुंबई पेट्रासिस ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के बीच सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया गया। विश्वविद्यालय की ओर से कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य और पेट्रासिस ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड की तरफ से मैनेजिंग डायरेक्टर डा. फिलिप बी० कैस्सी ने समझौता प्रपत्र पर हस्ताक्षर किए।
इस अवसर पर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफ़ेसर निर्मला एस. मौर्य ने कहा कि इस समझौता से हमारे विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को इंडस्ट्री के लिए तैयार करेगा और यह कंपनी हमारे विद्यार्थियों को ट्रेंड करने के साथ-साथ बातचीत और उनका मार्गदर्शन करती रहेगी। उन्होंने कहा कि एमओयू का उद्देश्य ऑप्टिकल फाइबर प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उद्योग की अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए छात्रों की वर्तमान कौशल की प्रासंगिकता,  गुणवत्ता,  उपयुक्तता और वितरण के मानकों को बढ़ाना है। यह संस्था विश्वविद्यालय के विभिन्न संकायों और उसके विभागों के साथ एक संयुक्त प्रमाणित कार्यक्रम तैयार करने और निष्पादित करने में सहयोग करेंगे।
इस अवसर पर पेट्रासिस ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर डा.फिलिप बी० कैस्सी ने अपने संस्मरण सुनाते हुए कहा कि जहां मकसद नहीं वह जीवन बेकार है अगर आपके पास विजन है तो कुछ भी असंभव नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारी संस्था यहां के विद्यार्थियों को तकनीक के क्षेत्र में हर मदद कर उन्हें रोजगार के लिए आत्मनिर्भर बनाएगी।   
इस अवसर पर कुलसचिव महेंद्र कुमार ने आशीर्वचन में कहा कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय आदर्श विश्वविद्यालय के रूप में जाना जाए और हमारे विद्यार्थी स्टार्टअप एमओयू के माध्यम से आत्मनिर्भर बने। इस अवसर पर विषय प्रर्वतन इंजीनियरिंग संस्थान डीन प्रो. बीबी तिवारी ने और संचालन नोडल अधिकारी डा. मनोज कुमार पांडेय किया। इस अवसर पर प्रो. अविनाश पाथर्डीकर, प्रो. रजनीश भास्कर, प्रो. रवि प्रकाश, प्रो. देवराज सिंह, डा. सुनील कुमार, डा. धीरेंद्र चौधरी, सहायक कुलसचिव अमृतलाल पटेल, डा. बबिता सिंह, डा. प्रवीण कुमार सिंह, डा.ज्योति सिंह, शैलेंद्र प्रजापति आदि उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी