कूड़ा कलेक्शन के लिए एक फरवरी से चलेगा ‘10 तक डोर टू डोर’ अभियान



अभियान में जनप्रतिनिधियों, एनजीओ, सीएसओ एवं सामाजिक संस्थाओं का लिया जाएगा सहयोग

लखनऊ। प्रदेश के समस्त नगरीय निकायों में स्वच्छ भारत मिशन,नगरीय 2.0 के तहत सूखे और गीले कचरे को अलग अलग कराकर शत प्रतिशत डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन करने के लिए 01 फरवरी से 31मार्च, 2023 तक 03 चरणों में "10तक' डोर टू डोर" अभियान प्रार्थना, सहमत, चालान की दृष्टि से चलाया जायेगा,जिसमें प्रथम चरण 01 से 15 फरवरी तक, द्वितीय चरण 16 फरवरी से 03 मार्च तक और तीसरा चरण 04 मार्च से 31 मार्च तक चलाया जाएगा। इसके लिए राज्य मिशन निदेशक श्रीमती नेहा शर्मा ने सभी नगर आयुक्तो एवम् अधिशासी अधिकारीयों को निर्देशित किया है कि सभी निकाय अभियान की शुरुआत से पहले अपने यहां मशीनरी और मैनपावर का समुचित प्रबन्ध कर पूर्णरूप से तैयारी कर ले।स्वच्छता के इस महाभियान में सभी नागरिकों का भी सहयोग लेना आवश्यक है। इसके भी प्रयास किए जाएं।
निदेशक श्रीमती नेहा शर्मा ने बताया कि प्रदेश के नगरों को 'गुड टू ग्रेट' तथा वैश्विक मापदंडों के अनुरुप बनाने के लिय सबसे पहले यहां के कूड़े का वैज्ञानिक विधि से निस्तारण करना जरूरी है। इसके लिए ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के तहत कूड़े का सोर्स सेग्रीगेशन किया जाना आवश्यक है। कोशिश होगी कि प्रातः 10बजे तक सभी नगरवासी सूखा और गीला कूड़ा अलग अलग कर वेस्ट कलेक्टर/कूड़ा गाड़ी को दे। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत नगरीय सुविधाओं, सौन्दर्यीकरण एवं स्वच्छता के प्रति जागरुकता के लिए 01जनवरी, 2023 से 100 दिवसीय ‘उत्तर प्रदेश वैश्विक नगर (यूपी जी सिटीज) अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान का उद्देश्य प्रदेश के नगरीय क्षेत्र में वैश्विक स्तर की सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ ही जन-जन को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना भी है। 'स्वच्छ ढाबा' एवं 'स्वच्छ विरासत'  जैसे अभियानों की सफलता के बाद अब 01 फरवरी से 31 मार्च तक '10तक डोर टू डोर' अभियान तीन चरणों में चलाया जाएगा। बताया कि नगरीय स्तर पर स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए निकाय कर्मी प्रतिबद्ध हैं। कचरा उठान से लेकर कचरा निस्तारण की प्रक्रिया को सरल बनाने की ओर अग्रसर हैं। 

स्वच्छता के लिए घर-घर जाकर करेंगे प्रार्थना 

प्रथम चरण 01 से 15 फरवरी तक चलाया जाएगा। जिसके तहत सफाई मित्र घर-घर जाकर आम जनमानस को ‘10तक डोर टू डोर’ अभियान में सहभागिता के लिए ‘प्रार्थना’ करेंगे। जनमानस को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के साथ ही गंदगी से होने वाले नुकसान की जानकारी भी दी जाएगी। आमजन को  चिकनगुनिया, डेंगू, मलेरिया आदि जनित रोगों से बचाव के लिए भी जागरूक किया जाएगा। 

सफाई चैंपियन कूड़ा पृथक्करण के लिए करेंगे जागरूक 

द्वितीय चरण 16 फरवरी से 03 मार्च तक चलाया जाएगा। इसके तहत निकाय स्तर पर 10-10 सफाई चैंपियन की पांच-पांच टीमों के माध्यम से घर-घर जाकर कूड़ा पृथक्करण के प्रति जागरूक किया जाएगा। साथ ही स्वच्छ वातावरण प्रोत्साहन समिति द्वारा वार्ड स्तर पर डोर टू डोर कैम्पेन के माध्यम से जनजागरुकता एवं जनसहभागिता सुनिश्चित कराई जाएगी। इस दौरान जनप्रतिनिधियों, एनजीओ, सीएसओ एवं सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से जनमानस को स्वच्छता बनाए रखने के प्रति  ‘सहमत’ भी कराया जाएगा। 
गंदगी फैलाने वालों पर लगेगा जुर्माना , कटेगा चालान 

04 मार्च से 31 मार्च तक अभियान के तीसरे चरण में गंदगी फैलाने वालों को चिन्हित कर उन पर जुर्माना लगाया जाएगा। मौके पर ही चालान भी काटा जायेगा।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?