आदिपुरूष मूवी के निदेशक निर्माताओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की उठी मांग,जानिए आखिर क्या है मूवी का असली सच


यूपी की राजधानी लखनऊ में अखिल भारत हिंदू महासभा ने आदिपुरुष मूवी के डायलॉग और दृश्यों पर आपत्ति जताते हुए इसका विरोध किया है। अखिल भारत हिंदू महासभा ने हजरतगंज कोतवाली में तहरीर देते हुए फिल्म निर्माताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।
मालूम हो कि भगवान श्री राम की कथा पर आधारित बॉलीवुड मूवी आदिपुरुष के रिलीज होने के बाद इसके डायलॉग और दृश्यों पर दर्शकों ने काफी आपत्ति जताई है। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर इस मूवी में दिखाए गए दृश्यों को लेकर इसके निर्देशक और निर्माताओं को जमकर ट्रोल किया जा रहा है। इसी बीच आदिपुरुष को लेकर अब विवाद खड़ा होता भी नजर आ रहा है।
बता दें कि आदिपुरुष में दर्शाए गए सीन्स को लेकर बीते दिनों काशी के संतों ने भी इस पर आपत्ति जताई है। अखिल भारतीय संत समिति के राष्ट्रीय महामंत्री स्वामी जीतेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि फिल्म के संवाद लेखक मनोज वास्तव में मुंतशिर ही था, जिसने शुक्ला बनने की कोशिश की।
उन्होंने कहा कि सनानत धर्म में तथ्यों से छेड़छाड़ और महापुरुषों का सरलीकरण करना, परमात्मा का सरलीकरण करना, अक्षम्य अपराध है। इस फिल्म के संवाद ऐसे हैं, जैसे मोहल्ले के टपोरी छाप लेखक प्रयोग करते हैं और यह हमें स्वीकार नहीं है।


संतों ने आदिपुरुष को मर्यादा के साथ खिलवाड़ बताते हुए अक्षम्य अपराध बताया है। आस्थावान हिंदू समाज से फिल्म को न देखने का आह्वान किया है। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ने कहा कि आदिपुरुष फिल्म में भारत की सनातन आस्था पर प्रहार करते हुए पौराणिक संदर्भों को अश्लीलता के साथ चित्रित किया गया है। यह भारत के महान आदर्शों के चरित्र से खिलवाड़ है, जिसे किसी कीमत पर स्वीकारा नहीं जा सकता है।

Comments

Popular posts from this blog

नयी कुलपति को कार्यभार किए एक भी पूरा नहीं भ्रष्टाचार धनोपार्जन लूट का वीडियो वायरल, जांच का आदेश

घूस लेते चौकी प्रभारी गिरफ्तार एंटी करप्शन टीम दरोगा को चौकी से घसीटते थाने लेकर गयी,9 माह में कितने जानें घूसखोर गये जेल

जौनपुर के इस नेता के खिलाफ ईडी ने जीएसटी रिफंड फर्जीवाड़े में आरोप पत्र कोर्ट में किया दाखिल, जानें पूरा मामला