भीषण तपिश ने बढ़ाया हीट स्ट्रोक के कहर इसके बचाव के जानें क्या है उपाय


जौनपुर।भीषण गर्मी और लू के कहर के बीच जनपद के जिला अस्पताल में मौतों का सिलसिला जारी है। पिछले 24 घन्टे में हीट स्ट्रोक से 07 लोगों के मौत की खबर है। मृतकों में 50 वर्ष से अधिक उम्र वालों सहित 2 साल तक के बच्चो की संख्या अधिक बतायी जा रही है। 
मौसम की मार से पूरे जिले में कोहराम मचा है। प्रचंड गर्मी और लू के बीच जिला अस्पताल के आंकड़े भयावह हैं। आकंड़ों के मुताबिक, बीते सात दिन में ही हीट स्ट्रोक से कई लोगों की मौत हुई है। इन मौतों ने लोगों को हिलाकर रख दिया है। जिले में पिछले तीन-चार दिन से 43-44 डिग्री सेल्सियस के ऊपर तापमान चल रहा है।
डायरिया और लू के मरीजों से सरकारी व निजी अस्पताल के बेड फुल हो गए हैं। जिला अस्पताल की इमरजेंसी में आने वाले अधिकतर मरीजों की मौत हो जा रही है। 
अचानक मौत के आंकड़ों में इजाफा होने से अस्पताल प्रशासन में खलबली मची है।  
हीट स्ट्रोक से बचाव के बाबत वरिष्ठ फिजीशियन चिकित्सक डाॅ आर पी यादव सुनीता अस्पताल से बात करने पर उन्होंने बताया कि हीट स्ट्रोक से बचने के लिए लोगे को तेल मसाले से परहेज करना चाहिए और अधिक से अधिक पानी का सेवन करना चाहिए, सीधी धूप से भी बच कर रहने की जरूरत है। लापरवाही होने पर हीट स्ट्रोक की जद में कोई भी आ सकता है। चिकित्सक का मत है कि खान पान में विशेष ध्यान रखकर हीट स्ट्रोक से बचा जा सकता है।

Comments

Popular posts from this blog

जिले के पांच प्राथमिक विद्यालयो के औचक निरीक्षण में तीन विद्यालय के मास्टरो को मिली कारण बताओ नोटिस, रोका गया वेतन

स्कूल के आफिस में प्रिसिंपल और टीचर की अश्लील हरकते हुई वायरल,पुलिस क्यों है बेखबर?

परिषदीय विद्यालयो में डिजिटल उपस्थित का शिक्षको के विरोध के बीच अब सीएम योगी का दखल,जानिए जिम्मेदारो को क्या मिला आदेश