जन चौपाल की बैठक में डीएम ने कराई अन्न प्रासन्न और गोद भराई, हटाई गई केयर टेकर


जौनपुर। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा की अध्यक्षता में विकासखंड रामपुर की ग्राम पंचायत धनन्जयपुर में ग्राम चौपाल का आयोजन किया गया।चौपाल में जिलाधिकारी के द्वारा विभिन्न विभागों के द्वारा संचालित योजनाओं के संबंध में जानकारी ग्रामीणों से प्राप्त की गयी। जन चौपाल में विभागों के द्वारा कैम्प लगाकर योजनाओं के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी गयी। जिलाधिकारी ने ग्रामीणों से जानकारी ली कि गांव में कितने देर बिजली रहती है जिस पर ग्रामीणों के द्वारा बताया गया की 16 घंटे बिजली प्राप्त हो रही है। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से शिकायत किया कि गांव में बना सामुदायिक शौचालय खुलता नहीं है,और केयरटेकर जिलाधिकारी के सामने शौचालय खुलने का समय भी नहीं बता पाई जिस पर उन्होंने केयरटेकर को हटाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने पंचायत भवन का संपर्क मार्ग बनाए जाने के निर्देश दिए।
मतदाता सूची के सर्वे का कार्य सही ढंग से नहीं किए जाने पर एईआरओ एवं बीएलओ को स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए। उन्होंने पंचायत सहायक को निर्देशित किया कि धान क्रय के संबंध में रजिस्ट्रेशन पंचायत भवन में ही कर दे जिससे किसानों को कहीं और जाना न पड़े। जिलाधिकारी द्वारा रंजना एवं ज्योति की गोदभरायी एवं आश्रेया पटेल, निशिका का अन्नप्रासन कराया।
उप परियोजना निदेशक आत्मा द्वारा अवगत कराया गया कि पीएम किसान सम्मान निधि के कुल 192 लाभार्थी पंजीकृत है जिन्हे योजना का लाभ प्राप्त हो रहा है। 15वी किस्त के लिए ई-केवाईसी एवं बैंक खाता आधार सीडेड होना अनिवार्य कर दिया गया है, गांव में 40 कृषकों की ई-केवाईसी एवं 12 कृषकों का खाता आधार सीडेड नही है, आज की चौपाल में 26 कृषको का ई-केवाईसी एवं चार कृषकों का डाकखाने में खाता खुलवाया गया। जिलाधिकारी द्वारा उप परियोजना निदेशक कृषि प्रसार को निर्देशित किया गया कि शेष कृषकों का भी कैम्प में बुलाकर डाटा अपडेट कराए ताकि आगामी 15वी किस्त से सभी पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित कराया जा सकें।
इस अवसर पर उपजिलाधिकारी मड़ियाहूं कुणाल गौरव, जिला विकास अधिकारी वी.के. यादव, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा0 गोरखनाथ पटेल, जिला पूर्ति अधिकारी संतोष विक्रम शाही सहित अन्य जिलास्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद