आखिर राजकीय बालिका गृह से बालिकायें भागी क्यों, 06 कर्मचारी हुए निलंबित,घटना की जांच जारी


जनपद बलिया के राजकीय बालिका गृह निधरिया से मंगलवार की आधी रात बाद करीब दो बजे 12 बालिकाएं पलायन कर गयीं, लेकिन पुलिस की तत्परता से सभी बालिकाओं को सुबह होने के पहले ही बरामद कर लिया गया। फिलहाल सभी बालिकाएं राजकीय बालिका गृह में हैं। यहां पर एक सबसे बड़ा एवं महत्वपूर्ण सवाल यह है कि आखिर बालिकायें यहां से भागी क्यों थी? क्या प्रशासन इसकी जांच करेगा?
जिला प्रोबेशन अधिकारी समर बहादुर सरोज ने बताया कि प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए लापरवाही बरतने वाले चार होमगार्ड और दो विभागीय कर्मियों को निलंबित कर उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जा रही है। दरअसल, राजकीय बालिका गृह में बालिकाओं की सुरक्षा व्यवस्था में दो महिला व दो पुरुष होमगार्डस के साथ दो विभागीय कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी गयी थी। रात्रि में अचानक 12 बालिकाओं के पलायन करने के बाद वहां की अधीक्षिका ने तत्काल पुलिस अधिकारियों को इसकी सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने तत्काल तत्परता बरतते हुए रोडवेज और रेलवे स्टेशन से इन सभी बालिकाओं को बरामद कर राजकीय बालिका गृह पहुंचा दिया। 
प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी अदिति सिंह ने घटना की जाँच के लिए एसडीएम सदर जुनैद अहमद व जिला प्रोबेशन अधिकारी समर बहादुर सरोज की समिति गठित कर तत्काल रिपोर्ट देने का निर्देश दिया। जाँच में ड्यूटी पर तैनात दो महिला होमगार्ड रमावती देवी व लीला देवी तथा दो पुरुष होमागाईस हंसराज यादव व छोटेलाल यादव के अलावा दो विभागीय कर्मचारी राजेश व बीरबल यादव प्रथम दृष्टया दोषी मिले। इन सभी को निलम्बित कर विभागीय कार्यवाही के लिए निदेशक, महिला कल्याण व जिला कमाण्डेन्ट होमागार्ड को पत्र लिखा गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर