प्रियंका का कांग्रेसियों को निर्देश चुनाव लड़ने वाले जनता के बीच रहे और भाजपा सरकार की नाकामियां बतायें


उत्तर प्रदेश में अपनी खोई जमीन को वापस लाने के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पूरी ताकत झोंक दी हैं। अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को चुनाव तैयारियों में जुटने का निर्देश दिया है। प्रियंका गांधी ने अपने नेताओं से कहा कि वह ज्यादा से ज्यादा जनता से जुड़े और पार्टी की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाएं। उन्होंने बीजेपी सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ आवाज बुलंद करने का आवाहन किया है। प्रियंका गांधी ने पूर्व सांसदों, पूर्व विधायकों से कहा है कि अगर उन्हें चुनाव लड़ना है तो उन्हें टिकट दिया जाएगा लेकिन नेता जनता के बीच अधिक समय बिताएं। 
गठबंधन से इनकार नहीं प्रियंका गांधी ने यूपी में कांग्रेस पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी या किसी के साथ गठबंधन करेगी इस मुद्दे पर कहा है कि हम खुले विचारों वाले हैं, चुनाव के लिए अन्य दलों के साथ गठबंधन से इनकार नहीं किया जा सकता। हालांकि कोई भी गठबंधन पार्टी के हितों की कीमत पर नहीं होगा। आरोपों का दिया जवाब वहीं प्रियंका गांधी के चुनावी समय में यूपी का दौरा करने के आरोपों के बारे में पूछे जाने पर कहा कि वह उत्तर प्रदेश में 'राजनीतिक पर्यटक'' नहीं हैं और वह पिछले करीब डेढ़ साल से विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी हैं तथा पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के लगातार संपर्क में हैं। अब वह उत्तर प्रदेश में ज्यादा समय देंगी। 
प्रियंका गांधी ने आरोप लगाया कि वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में बड़े-बड़े दावे कर सत्ता हथियाने वाली भारतीय जनता पार्टी की असलियत अब जनता के सामने आ चुकी है। कांग्रेस आगामी विधानसभा चुनाव में बीजेपी की इन्हीं नाकामियों को जनता के सामने रखेगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा ने पहले फेज के चुनाव हेतु प्रत्याशियों की जारी की सूची इन लगाया दांव

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

आइए जानते है मुन्ना बजरंगी के भाई को पुलिस ने क्यों किया गिरफ्तार