विश्वविद्यालय की छवि धूमिल करने तथा कथित पत्रकार के खिलाफ मुकदमा दर्ज




जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की सोशल मीडिया के माध्यम से छवि धूमिल करने पर विश्वविद्यालय की ओर से एक व्यक्ति (तथाकथित पत्रकार) के खिलाफ सराय ख्वाजा थाने में मुअसं. 219 से धारा 154, 500,  507, 186, एवं 67 भादवि के तहत सहा रजिस्टर प्रशासन की ओर से प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।
प्राथिमिकी दर्ज कराने के लिए कुलपति ने विश्वविद्यालय प्रशासन को निर्देश दिया था। कुलपति प्रो निर्मला एस मौर्य के मोबाइल  पर 14 जुलाई को दो संदेश भेजकर विश्वविद्यालय के कुलपति की छवि एवं प्रतिष्ठा को धूमिल करने निराधार, बेबुनियाद आरोप लगाने तथा राजकीय कार्यों में बाधा उत्पन्न करने का कार्य किया गया था।
खबर है कि कथित फर्जी पत्रकार विश्वविद्यालय से धनोपार्जन की अपेक्षा कर रहे थे। उसकी मांग पूरी न होने पर विश्वविद्यालय एवं कुलपति के खिलाफ फर्जी एवं बेबुनियादी आरोप शोसल मीडिया पर चला दिया इसे विश्वविद्यालय प्रशासन ने गम्भीरता से लिया और मुकदमा पंजीकृत करा दिया है। इस संदर्भ में थाना प्रभारी ने जानकारी दिया है कि मुकदमा दर्ज करने के पश्चात साक्ष्य इकठ्ठा करके जल्द ही फर्जी एवं तथा कथित पत्रकार को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया जायेगा। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात

सीएम योगी के एक ट्वीट से लखनऊ का नाम बदलने की सुगबुगाहट, जानें क्या हो सकता है नया नाम