वाह रे पुलिसः पूर्व विधायक द्वारा गुण्डई हुई 08 अगस्त को मुकदमा 20 अगस्त को, किसके दबाव में की गई देरी ?


          पूर्व विधायक इन्दल रावत सपा 

लखनऊ के जानकीपुरम में एक महिला के घर पर सपा के पूर्व विधायक इन्दल रावत के बेटों, घर की महिलाओं और अन्य साथियों ने कब्जा करने की नियत से हमला बोला। घर में घुसते ही सीसी कैमरे का कनेक्शन काट दिया गया। फिर महिला, उसके पति व तीन बच्चियों को धमकाया। दुराचार करने की धमकी दी और एक कमरे में बच्चियों के साथ छेड़छाड़ भी की गई। विरोध करने पर घर को छोड़ने के लिये कहा और तोड़फोड़ कर दहशत फैला दी। शोर सुनकर पड़ोसी जुटने लगे तो हमलावर धमकाते हुए फरार हो गये। पीड़िता ने आरोप लगाया कि इन्दल रावत ने सब कुछ कराया है। वह उसके घर पर कब्जा करना चाहता है। जानकीपुरम पुलिस ने बताया कि पूर्व विधायक इन्दल रावत, उनके बेटो समेत 20 लोगों के खिलाफ दबंगई, तोड़फोड़ और छेड़छाड़ की एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। 

मड़ियांव गांव में रहने वाली पीड़िता ने एफआईआर में लिखा है कि उनके पास 0.3085 हेक्टेअर पुश्तैनी जमीन है। इस जमीन पर पूर्व विधायक इन्दल रावत कब्जा करने की फिराक में है। वह और उनके साथी कई बार धमका चुके हैं। कई बार शिकायत की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इससे बेखौफ होकर ही आठ अगस्त को दोपहर 11 बजे वह अपने पति व बच्चियों के साथ घर पर थी। तभी सीसी टीवी में दिखा कि इंदल रावत का भाई मिश्रीलाल व कई अन्य लोग घर के आस-पास जुट रहे हैं। थोड़ी देर बाद ही इन लोगों ने सीसी कैमरा बंद कर दिया और बिजली के तार काट दिये। इस दौरान ही कई और लोग आये जिनके हाथों में बेलचा, फावड़ा, हथौड़ा समेत कई अन्य हथियार थे। ये सब घर में घुस आये और हंगामा शुरू कर दिया। 

घर न छोड़ने पर बच्चियों से दुराचार की धमकी

पीड़िता ने आरोप लगाया कि हमलावर जिसमें महिलायें भी थी, इन सबने कहा कि घर छोड़ कर चले जाओ वरना बच्चियों के साथ दुराचार किया जायेगा। इसके बाद ही तीनों बच्चियों को चार लोग एक कमरे में ले गये और उनके साथ अश्लील हरकत की। काफी देर तक छेड़छाड़ करते रहे। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी। बच्चियों का शोर सुनकर आस पास के लोग जुटने लगे। 

पड़ोसियों के आने पर फरार हुए


पीड़िता ने बताया कि उनकी चीखें सुनकर पड़ोसी फैजान, राजकुमार, हर्षित समेत कई लोग वहां आने लगे तो हमलावर पीड़ितों को धमकी देते हुए फरार हो गये। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उनकी बड़ी बेटी ने हमलावरों ही हरकतों की कुछ देर की वीडियो रिकार्डिंग कर ली थी। इस रिकार्डिंग को उन्होंने बेटी से ले लिया था। इसे पुलिस को भी उपलब्ध कराया गया है। इंस्पेक्टर जानकीपुरम ने बताया है कि हमलावरों ने दबंगई की थी। इस घटना के बाबत 20 अगस्त को एफआईआर लिख ली गई है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन