भाजपा अब स्व कल्याण सिंह की कलश यात्रा निकालने की बना रही योजना,जानें क्या होगा इसका राजनैतिक लाभ


भाजपा ने पार्टी के कद्दावर नेता रहे रामजन्मभूमि आंदोलन के सफल पैरोकार पूर्व राज्यपाल एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. कल्याण सिंह की शवयात्रा में जन सैलाब देख कर अब उसे राजनैतिक रूप से भुनाने की योजना में जुट गयी है। आगामी विधानसभा के चुनाव को देखकर अपने स्वर्गीय नेता की कलश यात्रा निकालने की योजना बना रही है। हांलाकि इसके लिए अभी तक पार्टी की प्रदेश इकाई की तरफ से कुछ भी नहीं कहा गया है पर इतना साफ है कि नेतृत्व से हरी झंडी मिलते स्व कल्याण सिंह की कलश यात्रा पूरे प्रदेश में निकाली जाएगी। शव यात्रा से इतना तो साफ हो गया है कि वह लाखों लोगों के दिलों पर राज किया करते थें।  
स्व कल्याण सिंह के कलश यात्रा को लेकर आरएसएस और भाजपा के पदाधिकारियों में विचारमंथन शुरू हो गया है। दरअसल संघ नई पीढ़ी को बताना चाहता है कि आज जो अयोध्या में राममंदिर का निर्माण हो रहा है उसक पीछे कल्याण सिंह का कितना बड़ा योगदान रहा हैं। यहां यह बताना जरूरी है कि स्व कल्याण सिंह के अंतिम संस्कार के दौरान संघ और भाजपा के कई बड़े पदाधिकारी मौजूद थें। उसी दौरान कलश यात्रा पर मंथन शुरू हो गया था। आरएसएस के सह सर कार्यवाह कृष्ण गोपाल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भी अलग से बात हुई। इस बातचीत में स्व कल्याण सिंह के सांसद पुत्र राजबीर सिंह भी मौजूद थें। इसके बाद वहीं पर यह तय हुआ कि जल्द ही एक बड़ी बैठक कर इस कार्यक्रम को विस्तृत रूपरेखा तय की जाएगी। कल्याण सिंह के अंतिम संस्कार में शामिल हुए शाह उल्लेखनीय है कि बीते सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन के बाद बुलन्दशहर के नरोरा घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया था। उनके अंतिम संस्कार के समय केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थें। वहीं दूसरी तरफ राज्य सरकार ने स्व कल्याण सिंह की याद में अयोध्या समेत पांच स्थानों में सड़कों के नाम उनके नाम से करने की घोषणा की है।
भाजपा नेतृत्व का मानना है कि चुनाव से पहले पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन का राजनैतिक लाभ पार्टी को मिल सकता है क्योंकि जन मानस के बीच में उनकी लोकप्रियता आज भी विद्यमान है। कलश यात्रा से पार्टी को लाभ मिल सकता है। सब कुछ सही रहा तो जल्द ही कलश यात्रा उत्तर प्रदेश के हर जनपद में भ्रमण कर सकती है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात

सीएम योगी के एक ट्वीट से लखनऊ का नाम बदलने की सुगबुगाहट, जानें क्या हो सकता है नया नाम