पुलिस का सटीक निशाना फिर बदमाशों को घुटने के नीचे लगी गोली, और तीन गिरफ्तार

 


जौनपुर। एक बार फिर पुलिस ने अपने जांबाजी का परिचय देते हुए बदमाशो के साथ मुठभेड़ कर ऐसा निशाना लगाया कि पुलिस की गोली बदमाशो के पैर में घुटना के नीचे लगी और तीन बदमाशो को गिरफ्तार कर लिया और विधिक कार्यवाई कर सीखचों में कैद कर दिया है। हलांकि बदमाशों द्वारा चली गोली पुलिस को नहीं लगी इतने सावधान थे पुलिस के लोग। 

पुलिस की विज्ञप्ति के अनुसार महराजगंज- बदलापुर पुलिस की संयुक्त टीम से शाहपुर पीली नदी के दुगौली खुर्द मोड़ के पास पुलिस के साथ मुठभेड़ में मंगलवार की आधी रात के बाद तीन बदमाश गोली से घायल हो गये तीनो के घुटने के नीचे गोली लगने की पुष्टि अधिकारी करते है। घायल बदमाशों का उपचार जिला अस्पताल में चल रहा है। पुलिस के अनुसार रात में लगभग 12 बजे प्रभारी निरीक्षक बदलापुर संजय वर्मा, एसओ महराजगंज संतोष राय बदमाशों की धर पकड़ की योजना बना रहे थे। इसी बीच प्रभारी निरीक्षक संजय वर्मा को मुखबीर से सूचना मिली कि दुगौली खुर्द की तरफ से तीन बाइकों पर सवार सात बदमाश बदलापुर की तरफ जा रहे हैं।

प्रभारी निरीक्षक व एसओ महराजगंज मय फोर्स दुगौली खुर्द मोड़ के पास पहुंचे। सामने से आ रहे बाइक सवार बदमाशों को पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। संयोग ही था कि बदमाशों की गोली से कोई पुलिसकर्मी घायल नहीं हुआ। पुलिस की जबाबी फायरिंग में तीन बदमाशों के पैर में गोली लगी। जिससे वे गिरकर तड़पने लगे। हालाकि दो बाइक पर सवार चार बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। पुलिस ने घायलों को तत्काल सीएचसी पहुंचाया। जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद पूछताछ के दौरान घायल बदमाशों ने अपना नाम अजय पासी उर्फ अजय सरोज पुत्र पन्नालाल निवासी घरवासपुर, अंकित मौर्या पुत्र कृपाशंकर मौर्य निवासी सरायविभार थाना महराजगंज व भानू पुत्र रमेश निवासी पट्टीदयाल थाना बदलापुर बताया।


तीनों बदमाशों की उम्र 19 से 20 वर्ष के बीच है। बदमाशों ने 28 नवम्बर को महराजगंज बाजार निवासी राकेश मौर्य से 25 हजार नकदी,बाइक व मोबाइल तथा 29 नवम्बर को पीली नदी शाहपुर के पास से खुटहन थाना क्षेत्र के पटैला निवासी आकाश मौर्य की पल्सर लूटने तथा 30 नवम्बर की रात बदलापुर के महराजगंज रोड स्थित शैलेश सिंह के मोबाइल सेंटर से 40 हजार नकदी व मोबाइल लूटने की बात स्वीकार की। इस बाबत अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ने बताया कि पुलिस टीम से मुठभेड़ में घायल शातिर किस्म के बदमाश हैं। घटना के दौरान भागने वाले बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए चार टीमें गठित कर उनकी तलाश की जा रही है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन