भाजपा को पटखनी देकर सहकारी बैंक पर पुन: कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह ने किया कब्जा


कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह बने सहकारी बैंक के चेयरमैन, पिंकी सिंह उप चेयरमैन 

जौनपुर। जनपद में जिला सहकारी बैंक के चुनाव में कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह बनाम भाजपा के बीच नामांकन के समय से चल रहे द्वन्द के बीच आज एक बार फिर कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह ने भाजपा को जबरदस्त पटखनी देते हुए जिला सहकारी बैंक के सभापति से लेकर सभी पदों पर अपना कब्जा स्थापित कर लिया है। लगभग तीन दशक से जिला सहकारी बैंक पर एक क्षत्र राज करने वाले कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह को इस बार भाजपा के लोग डायरेक्टर के चुनाव हेतु नामांकन की तिथि से सत्ता की हनक दिखाते हुए भरपूर तांडव किये लेकिन इसके बाद भी जिला सहकारी बैंक पर काबिज नहीं हो सके। पूरी लड़ाई में कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह ने भाजपा को कड़ी टक्कर देते हुए पराजय की दहलीज पर पहुंचा दिया है। 
यहां बता दे कि जिला सहकारी बैंक के 14 डायरेक्टर के चुनाव हेतु नामांकन के दिन पर्चा खरीदने के समय पूरी जिला भाजपा की टीम सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करते हुए कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह के लोंगो को पर्चा खरीदने में बड़ा ब्यवधान उत्पन्न किया। इसके बाद भी जद्दो जहद कर कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह के समर्थको ने पर्चा खरीद कर नामांकन किया। जिसमें 11 डायरेक्टर निर्विरोध निर्वाचित हो गये थे। तीन पर 06 दिसम्बर को चुनाव हुआ सभी तीनो डायरेक्टर कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह के समर्थक चुनाव जीते। आज 07 दिसम्बर को बैंक के चेयरमैन/ सभापति का चुनाव हुआ जिसमें स्वयं कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह सर्वसम्मत से बैंक के चेयरमैन पद पर चुने गये और उप सभापति के पद पर श्रीमती पिंकी सिंह को चुना गया है। इसके अलांवा तमाम समितियों में भी कुंवर वीरेन्द्र प्रताप सिंह के समर्थक चुने गये है। नव चयनित सभी पदाधिकारियों की सूची संलग्न है

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन