जमीन के लिए अपहरण कर पति पत्नी की हत्या से मचा कोहराम,पुलिस जांच में जुटी



एक मुहावरा है जर जोरू जमीन के लिए लोंगो का जीवन ही खत्म कर दिया जाता है जी हां ऐसी एक जनपद आजमगढ़ की सनसनी पूर्ण घटना ने मुहावरे को चरितार्थ करती नजर आई है। इस सनसनीखेज वारदात में पति-पत्नी का अपहरण कर हत्या कर दी गई है।
फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के जनता इंटर कालेज अंबारी के पास गुरुवार की सुबह सड़क के किनारे पति पत्नी दोनों का शव मिला। शव देखने से लग रहा था कि दोनों को करंट लगाकर जान ली गई है। परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शव के साथ ही सड़क पर बैठ गए। मौके पर भारी संख्या में पुलिस तैनात कर दी गई। घटना का कारण भूमि विवाद बताया जा रहा है। 

अहरौला थाना क्षेत्र के पारा गांव निवासी इन्द्रपाल मौर्य फुलवरिया में जनरल स्टोर की दुकान चलाते थे। वह अपनी पत्नी शकुंतला मौर्य के साथ मंगलवार को दवा लेने के लिए बाइक से जौनपुर के शाहगंज बाजार गए थे। दोनों देर शाम तक घर नहीं लौटे। परिवार के लोगों ने उनके मोबाइल पर फोन किया। इन्द्रपाल ने फोन उठाया और बताया कि वे संकट में हैं। इसके बाद उनका मोबाइल बंद हो गया। 


परिवार वाले रातभर दोनों की खोजबीन करते रहे। इसी बीच आज सुबह शव मिलने की सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया। गुरुवार की सुबह घर से आठ किलोमीटर दूर अंबारी में दंपत्ति का शव मिला। पास में ही उसकी बाइक भी गिरी मिली। दंपत्ति के कपड़े अस्तव्यस्त थे। दोनो के चेहरे काले पड़ गए थे। लोग करंट लगा कर हत्या करने की आशंका जता रहे हैं।
इन्द्रपाल के भतीजे प्रदीप मौर्य ने भूमि विवाद को लेकर कुछ लोगों पर अपहरण कर हत्या करने की आशंका जताते हुए तहरीर दी है। एसपी के आदेश पर एक महिला सहित तीन लोगों के खिलाफ पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी