जानिए डीएम पर हमलावर क्यों हुआ बीडीओ,घटना प्रदेश में बनी चर्चा का बिषय



डीएम कैंप कार्यालय में शुक्रवार को अनुशासन तार-तार हो गया। जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी से बैठक के दौरान खंड विकास अधिकारी बरौली अहीर अनिरुद्ध सिंह ने अभद्रता की। उन पर हमलावर हो गए। मारपीट की कोशिश की गई। मामले में खंदौली के एडीओ पंचायत ने रकाबगंज थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।
शुक्रवार सुबह 10 बजे अकोला, बरौली अहीर, बिचपुरी और खंदौली क्षेत्र में नाली, सड़क, जलभराव जैसी जन समस्याओं की समीक्षा के लिए डीएम भानु चंद्र गोस्वामी ने आवास स्थित कैंप कार्यालय पर बैठक बुलाई थी। बैठक में नगला कली, रजरई क्षेत्र में जलभराव की समस्या के निस्तारण में लापरवाही पर डीएम ने बीडीओ से नाराजगी जताई।
इसी पर विवाद हुआ और बरौली अहीर के बीडीओ अनिरुद्ध सिंह चौहान के बोल बिगड़ गए। अचानक ही बीडीओ ने सबके सामने डीएम से गाली-गलौच करते हुए हद दर्जे की अभद्रता की। माहौल इतना ज्यादा बिगड़ गया कि नौबत हाथापाई तक पहुंच गई। डीएम पर शारीरिक हमले की कोशिश हुई।
घटना के बाद आरोपित बीडीओ अनिरुद्ध सिंह चौहान भाग गया। बैठक में उस दौरान सीडीओ प्रतिभा सिंह के साथ विकास अधिकारी मौजूद थे। घटना के बाद खंदौली के सहायक विकास अधिकारी पंकज कुमार ने आरोपित बीडीओ बरौली अहीर अनिरुद्ध सिंह चौहान के विरुद्ध पुलिस थाना रकाबगंज में मुकदमा दर्ज कराया है।
जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने अभद्रता की पुष्टि करते हुए कहा कि जन समस्याओं और मुख्यमंत्री की प्राथमिकता के कार्यों में लापरवाही अक्षम्य है। इधर, घटना के बाद से आरोपित बीडीओ का मोबाइल नंबर स्विच ऑफ है। विकास भवन के अधिकारी व कर्मचारियों में इस घटना के बाद दो गुट बन गए हैं। पूरे कलेक्ट्रेट में दिन भर इसी घटना की चर्चा होती रही। लखनऊ और दिल्ली के अधिकारियों ने मामले की जानकारी के लिए कई फोन किए।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद