संविधान बदलते ही छिन जाएगा बेटियों के शिक्षा का अधिकार, खत्म हो जाएगी अभिव्यक्ति की आजादी - बाबूसिंह कुशवाहा



आने वाली युवा पीढ़ी का भविष्य बचाने और संविधान की रक्षा के लिए इण्डिया गठबंधन को वोट करने के लिए जनता से है अपील 

जौनपुर। लोकसभा 73 जौनपुर संसदीय क्षेत्र से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे सपा प्रत्याशी बाबूसिंह कुशवाहा ने कहा कि 2024 का चुनाव कोई सामान्य चुनाव नहीं है। इस चुनाव में संविधान बचाने की जंग है। केन्द्र में बैठी बाजपा की सरकार बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के संविधान को बदलने के लिए योजना और पृष्ठ भूमि तैयार कर ली है। अगर अबकी बार सत्ता की दहलीज पर पहुंचेगी तो देश में बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर का बनाया संविधान बदल दिया जाएगा। 
श्री कुशवाहा ने कहा कि बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के संविधान में गरीब और अमीर के बीच समानता का संविधान है।समता, स्वतंत्रता दबे कुचले समाज को बोलने और बेटियों के शिक्षा और समानता का अधिकार दिया गया ,हर व्यक्ति को अपनी अभिव्यक्ति की आजादी का अधिकार दिया गया है। आखिर भाजपा ऐसे संविधान को क्यों बदलने पर उतारू है।
श्री कुशवाहा ने यह भी बताया कि भाजपा जो संविधान लाने जा रही है उसमें बेटियों पढ़ने के अधिकार से वंचित कर दिया गया है।समता समानता का अधिकार खत्म करने की योजना है। लेकिन अब समाज जागरूक हो गया है संविधान बदलने वाली इस सरकार को सत्ता से बाहर करने का मन बना लिया है। उन्होने कहा कि जनता से अपील है कि अपने बच्चो के भविष्य को बचाने के लिए इस सरकार को सत्ता से बाहर करने के लिए इस चुनाव में इण्डिया गठबंधन के प्रत्याशियो को जिताने का काम करे क्योंकि जनता के एक वोट से संविधान की रक्षा हो सकेगी।
श्री कुशवाहा ने कहा कि केन्द्र की भाजपा की सरकार ने हमारे युवाओ के साथ अग्निबीर योजना के नाम पर एक घिनौना मजाक किया है।अगर केन्द्र में इन्डिया गठबंधन की सरकार बनी तो अग्निबीर योजना को खत्म कर देश की सीमा पर लगे नौजवानो को पर्मानेन्ट की नौकरी प्रदान की जायेगी। विकास के कार्य पूरी तरह से ठप पड़े हुए जनता से अपील है कि विकास के लिए वोट करें। उन्होंने कहा जौनपुर की सड़को की बात की जाये तो हर तरफ सड़के जर्जर हो चुकी है। आज केन्द्र और प्रदेश दोनो जगह भाजपा की सरकार है लेकिन विकास ठप पड़ा हुआ है।
जौनपुर का मेडिकल कॉलेज जिसकी आधारशिला सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष आदरणीय अखिलेश यादव ने रखा था आज तक पूरी तरह से जनता को कोई लाभ नहीं पहुंचा सका है। चुनाव जीतने के बाद हमारा प्रयास होगा कि जनपद वासियों को स्वास्थ्य की अच्छी सुविधा मिले इसके लिए जो भी कदम उठाने की जरूरत होगी उठाया जाएगा।
उन्होंने कहा संविधान बचेगा तभी जनता को मिलने वाली सुविधाएं मिल सकेंगी। इसी क्रम में श्री कुशवाहा ने कहा कि कोरोना काल में पांच सौ करोड़ रूपये लेकर प्रधानमंत्री ने भारत के 140 करोड़ जनता के साथ बड़ा ही घृणित खेल खेला है वैक्सीन कम्पनी से पैसा लेने के बाद जबरदस्ती वैक्सीन लगावाई गयी और जन मानस को मरने के लिए छोड़ दिया है। यह हम नही वैक्सीन बनाने वाली कम्पनी ने कोर्ट में अपना जबाव देते हुए कहा कि वैक्सीन लगवाने वालो के शरीर की रक्त नलिकाओं के खून में थक्के जम सकते है जो मौत के कारक बन सकते है।
उन्होंने कहा कि 2024 का यह चुनाव इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि यदि इस बार भाजपा सत्ता में पहुंच गई ती आने वाले समय में चुनाव हो सकेगा अथवा नहीं यह एक बड़ा सवाल है।अभी तक तो बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के संविधान से देश चल रहा था लेकिन अब भाजपा इसे बदलकर चुनाव की व्यवस्था को खत्म कर सकती है। इसलिए जनता से अपील है कि आने वाले 25 मई 24 को छठवें चरण के मतदान के दिन साइकिल वाले चुनाव निशान के सामने वाली बटन को दबा कर इण्डिया गठबंधन की सरकार बनाने में अपना योगदान दे और महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। 

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?