क्वाटराइन नियमों का पालन न करने वाले 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज - डी एम जौनपुर

 
  जौनपुर।  जिलाधिकारी  दिनेश कुमार सिंह के अनुसार  जनपद जौनपुर में अब तक 434 लोग ऐसे हैं जो विदेश से आए हैं और लगभग 12080 लोग हैं जो विभिन्न राज्यों से आए  हैं।इन सभी को अपने-अपने घरों में अलग बिल्कुल रहना है किसी को स्पर्श नहीं करना है ।और इस तरह की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं कि वह लोग घर के बाहर निकलते हैं घूमते  हैं।सभी थानाध्यक्ष को इस संबंध में कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए अब तक 11 लोगों के खिलाफ  क्वाटराइन के नियमों को ना मानने के कारण एफ आई आर दर्ज की गई है। आज मुख्य चिकित्सा अधिकारी को इस संबंध में निर्देश दिए गए हैं जिनको 14 दिन से अधिक हो गए लेकिन उनमें किसी प्रकार के लक्षण हैं तो उनको घर से लाकर की प्रशासन द्वारा बनाई गई व्यवस्था में क्वॉरेंटाइन में रखा जाए और उनकी निगरानी हो।इसी प्रकार ऐसे लोग हैं जिनका 14 दिन अभी पूरा नहीं हुआ लेकिन उनमें किसी प्रकार के लक्षण परिलक्षित होते हैं तो उनको भी लाकरके प्रशासन द्वारा बनाई गई व्यवस्था के अंतर्गत रखा जाए एवं निगरानी की जाएगी। तथा ऐसी सभी संदिग्ध लोगों के  नमूने  लेकर के बीएचयू में जांच के लिए भेजा जाये।मेरी पुनः ऐसे लोगों से विनती है कि जो विदेश से आए हैं और जो अन्य राज्यों से आए हैं वह हर हाल में क्वॉरेंटाइन में रहे अपने घरवालों से अलग रहे। घरवालों से भी विनती है कि वह उनको  स्पर्श न करें। उनसे  दूरी बनाकर रखें। लापरवाही ना बरते ,नहीं तो स्वयं भी उनकी चपेट में आ जाएंगे। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि सब्जी और खाद्यान्न की जनपद में कोई कमी नहीं है ।दुकानें भी खुल रही है। बस आवश्यकता यह है कि आप अपने मोहल्ले की दुकान में जाकर के अपना सामान खरीद करके सीधे घर जाये। किसी के घर के सामने ना जाए ना कोई दूसरा आपके यहां  आये। कोई रिश्तेदारी जो निभानी है वह जरूर निभाए लेकिन उनकी घर ना जा करके बल्कि दूरभाष पर वार्ता करते रहें। माननीय प्रधानमंत्री जी के आहवान   अनुसार आप सभी अपने घरों में रहे और लक्ष्मण रेखा को पार न करे।खाद्यान्न की कोई कमी न रहे इस को सुनिश्चित करने के लिए आज जिले में  ६२गाड़ियों से खाद्यान्न मोहल्लों मोहल्लों  में उपलब्ध कराया गया 120 ठेले   लगाए गए 39 दुकानें ऐसी हैं जो टेलीफोन पर आर्डर से घर सामान पहुंचा रही हैं 17 मेडिकल की शॉप ऐसी हैं जो दवा टेलीफोन पर घर पहुंचा रही हैं ।सभी लोग लगे हुए  हैं।6 हजार से अधिक भोजन के पैकेट बनवा करके पूरे जनपद में गरीबों में बटवाए गए हैं। सभी सामाजिक संगठन इस काम में लगे हुए हैं ।5100 श्रमिक जो श्रम विभाग में पंजीकृत उनके खातों में सरकार द्वारा आज एक ₹1000 भी डाला गया है। 11 लोग ऐसे हैं जिन्होंने क्वॉरेंटाइन के नियमों को नहीं माना उनके खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई गई ।2 लोग जो मुनाफाखोरी करते हुए पाए गए  उनके खिलाफ दर्ज कराई गई है।9570 मुसहर परिवारों में 5 किलो आटा 2 किलो चावल 1 किलो दाल 1 किलो चीनी 1 किलो नमक 10 बिस्किट के पैकेट हल्दी के पैकेट और मसाले के पैकेट का एक पैकेट बनाकर  खंड विकास अधिकारियों के माध्यम से उनके घरों में भेजा जा रहा है। अब तक 3000 परिवारों में भेजा जा चुका है यह सभी सामाजिक संगठनों ने ही उपलब्ध कराया है।मजिस्ट्रेट और पुलिस लगातार भ्रमण कर रही है और सुनिश्चित कर रही है कि लोग घरों के बाहर अनावश्यक रूप से ना निकले और सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो करें। मंडियों में उचित व्यवस्था की गई है ।सभी किसान भाइयों को छूट दी गई है कि वह अपने खेत के उत्पाद लाकर के मंडी के बेचे इसी प्रकार पशुपालकों को भी छूट दी गई कि वह अपने दूध को लाकर के मंडियों में बेचे।चारे की गाड़ियों पर भूसे की गाड़ी पर कोई रोक नहीं है ।दुकाने किराना की सुबह 6:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक खुलेंगी ।मेडिकल की दुकान 24 घंटे खुलेगी ।पेट्रोल पंप खुले हुए हैं ।अंडे खराब हो रहे थे इसको देखते हुए भी निर्णय लिया गया कि अंडे की दुकान भी खोल सकते हैं। ब्रेड बिस्किट बनाने वाले अपनी फैक्ट्री भी चला सकते हैं तथा उनकी बिक्री भी कर सकते हैं ।खाद्यान्न की जिससे कि कोई कमी ना रहे कंट्रोल रूम स्थापित है ।इस कंट्रोल रूम के नंबर परअब फोन करके अपनी समस्या बता सकते है ।उसकी समस्या के समाधान करने की कोशिश की जाएगी ।कोई भूखा ना रहे यह सुनिश्चित किया जाएगा ।वह इस कंट्रोल रूम में जरूर अपना फोन करके बताएं इसको भोजन पैकेट भेजा जाएगा ।दो कमुनिटी किचन एक नदी के उस पार एक नदी के इस पार शहर में चल रही है। हर तहसील में एसडीएम द्वारा कमुनिटी किचन चलाए जा रहे हैं ।और पूरी सब्जी पुलाव के पैकेट बनाकर के उपलब्ध कराये जा रहे हैं। घबराने की जरूरत नहीं  हैलेकिन सतर्कता बरतें कोई समस्या हो तो कंट्रोल रूम के के नंबरों पर सूचना दें। सभी से अपील है कि धैर्य रखें। इस संकट की घड़ी में हम सब को एकजुट रहना है ।जनता से भी अपील है कि जो लोग सक्षम है वह अपने आस-पड़ोस में जरूर देखें अगर कोई भूखा हो और उसकी मदद कर सकते हो तो अवश्य करें। इस आशय की जानकारी जिला प्रशासन द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया गया है

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र