नोडल अधिकारी से ग्रामीणों ने किया शिकायत बिजली मिली नहीं और बिल हाजिर है, तो अधिशासी अभियंता को लगी फटकार



जौनपुर। सचिव, स्वास्थ्य शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश शासन एवं नोडल अधिकारी जौनपुर जी.एस. प्रियदर्शी ने विकास खण्ड मछलीशहर के ग्राम पंचायत जमुहर में चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं सुनी तथा सरकारी योजना के विषय में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान नोडल अधिकारी ने विद्युत, कृषि, स्वास्थ्य, पशुपालन, शिक्षा तथा अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ जनता तक कितना पहुंच रहा है इसकी हकीकत भी ग्रामीण जनो से जाना।
गांव के राम कैलाश पटेल, पंकज शिवशंकर, पुष्पा बिन्द ने बताया कि उनके यहां विद्युत कनेक्शन है किंतु अभी तक बिजली नहीं पहुंची है इसके बावजूद प्रतिमाह बिजली का बिल आता है, जिस पर नोडल अधिकारी अधिशासी अभियंता विद्युत को निर्देश दिया कि पूरे गांव का निरीक्षण कर जांच करें जिन घरों में विद्युत कनेक्शन न होने के बाद भी बिजली का बिल आता है, उनका निस्तारण करायें। उन्होंने कहा कि किसी भी उपभोक्ता के घर फर्जी विद्युत बिल नहीं जाना चाहिए। ग्राम पंचायत जमुहर में परिवारों की संख्या के सापेक्ष विद्युत कनेक्शन काफी कम है, नोडल अधिकारी ने विद्युत कनेक्शन बढ़ाने के निर्देश दिए। गाँव वालों ने नोडल अधिकारी को बताया कि विद्युत विभाग द्वारा उनको बिल भी उपलब्ध नहीं कराए जाते हैं, जिस पर उन्होंने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि एन सॉफ्ट एजेंसी को नोटिस जारी करें जिसको गावों में विद्युत बिल देने की जिम्मेदारी दी गई है, एजेंसी का जो कर्मचारी विद्युत बिल देने के लिए लगाए गए हैं अगर घरों तक विद्युत बिल नहीं पहुंचाते हैं तो उनके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाए। 
नोडल अधिकारी ने निर्देश दिया कि 14 से 18 वर्ष की किशोरियों का सर्वे कराकर सूची बनाएं तथा उन्हें आवश्यकता अनुसार पोषाहार उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि बैंक तथा कृषि विभाग संयुक्त रूप से गांव में कैंप लगाकर किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने का कार्य करें। पशुपालन विभाग से संबंधित जानकारी प्राप्त करते हुए नोडल अधिकारी ने निर्देश दिया कि प्रत्येक न्याय पंचायत स्तर पर छोटी-छोटी अस्थाई गौशाला बनवायी जाये जिसमें निराश्रित पशुओं को रखा जा सके। 
स्वास्थ विभाग की समीक्षा करते हुए नोडल अधिकारी ने निर्देश दिए कि जनपद में सब सेंटरों का सर्वे कराया जाए तथा नए सेंटर बनाने की आवश्यकता हो तो उनका प्रस्ताव शासन को भेजें। नोडल अधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को निःशुल्क आवास दिया जाता है, उन्होंने कहा कि यदि कोई पैसा मांगता है तो उसकी सूचना अधिकारियों को दे। उन्होंने मनरेगा के तहत और अधिक लोगों को रोजगार देने का भी निर्देश दिया। महिला समूहो को अगरबत्ती बनाने, सिलाई का प्रशिक्षण देने का निर्देश दिया। नोडल अधिकारी ने कहा कि अगली चौपाल में सीएचसी वालों को भी चौपाल में बुलाया जाए जिससे पात्र लाभार्थियों को चौपाल में ही फॉर्म भराकर लाभ दिलाया जा सके। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने नोडल अधिकारी को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा दिए गए निर्देशों का गंभीरता से पालन किया जाएगा।
नोडल अधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को निःशुल्क आवास दिया जाता है, उन्होंने कहा कि यदि कोई पैसा मांगता है तो उसकी सूचना अधिकारियों को दे। उन्होंने मनरेगा के तहत और अधिक लोगों को रोजगार देने का भी निर्देश दिया। गांव में स्वास्थ्य विभाग के सबसेन्टर खोले जाने का प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया। महिला समूहो को अगरबत्ती बनाने, सिलाई का प्रशिक्षण देने का निर्देश दिया। नोडल अधिकारी ने कहा कि अगली चौपाल में सीएचसी वालों को भी चौपाल में बुलाया जाए जिससे पात्र लाभार्थियों को चौपाल में ही फॉर्म भराकर लाभ दिलाया जा सके। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने नोडल अधिकारी को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा दिए गए निर्देशों का गंभीरता से पालन किया जाएगा। 
मनरेगा पार्क का निरीक्षण किया गया, निरीक्षण के दौरान निर्देश दिया कि पंचायत भवन में सभी अधिकारी बैठे। भारत नेट की कनेक्टविटी सुनिश्चित की जाए। साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि पार्क में बने कुस्ती मैदान की मिट्टी बदलवायी जाय।
इस अवसर पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा सहित मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला, उपायुक्त मनरेगा भूपेन्द्र सिंह, उप जिलाधिकारी मछलीशहर अंजनी कुमार सिंह आदि अधिकारी गण मौजूद रहे। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक

पूर्वांचल की राजनीति का एक किला आज और ढहा, सुखदेव राजभर का हुआ निधन