निकट संबंधी प्रमाण पत्र बनवाने में शिक्षकों के परिजनों को आ रही है काफी दिक्कतें - अरविंद शुक्ल




बीएसए संग बैठक कर शिक्षक नेताओं ने मृतक आश्रित शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया के संबंध में बनाई अहम रणनीति


जौनपुर। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों व  खंड शिक्षाधिकारियों की संयुक्त बैठक सोमवार को  जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में  हुई । जिसमें शिक्षक नेता सगंठन के जिलाध्यक्ष अरविन्द शुक्ल ने 
पंचायत चुनाव में शहीद हुए शिक्षकों के पाल्यों के मृतक आश्रित नौकरी व  उनके फण्ड, पेंशन सहित देयकों के भुगतान के संबंध में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी  प्रवीण तिवारी  से चर्चा करते हुए बताया कि मृतक आश्रित शिक्षकों के परिजनों को निकट संबंधी प्रमाण पत्र बनाने में तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि शहीद शिक्षकों के परिजन तृतीय श्रेणी में नियुक्ति को लेकर सशंकित है, जिसके कारण उनके द्वारा पत्रावली जमा करने में उहापोह की स्थिति बनी हुई है ।
इस पर वार्ता के क्रम में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्री तिवारी द्वारा स्पष्ट कहा गया कि मृतक शिक्षको के परिजन किसी प्रकार की शंका न करें । मृतक शिक्षको के ऐसे आश्रित द्वारा जिनकी योग्यता शिक्षक या तृतीय श्रेणी के कर्मचारी की है उनके द्वारा इस आशय का शपथ पत्र दे दिया जाय कि उनकी नियुक्ति शिक्षक या तृतीय श्रेणी में किया जाय , शासनादेश आने के बाद उनकी नियुक्ति उसी पद पर की जायेगी । परन्तु उनके द्वारा पत्रावली जमा न करने के कारण उनके फण्ड पेंशन सहित अन्य देयकों का भुगतान बिलम्बित होना अत्यंत चिंताजनक है । साथ ही साथ उन्होंने भरोसा दिलाया कि जिनका भी निकट सम्बन्धी प्रमाणपत्र  आवेदन के उपरांत नही बना है , वे लोग अपने आवेदन के स्टेटस से अवगत कराएं विभाग उच्चाधिकारियों से मिलकर उन आवेदनों का निराकरण करायेगा। 
इस सम्बंध में प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष अरविंद शुक्ला ने बताया कि प्रतिनिधिमंडल द्वारा नवनियुक्त शिक्षको के वेतन भुगतान सहित अन्य समस्याओं पर भी चर्चा की गई जो सकारात्मक रहा ।
बैठक में प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारी व जनपद के सभी खंड शिक्षाधिकारी उपस्थित रहे । उधर  बेसिक शिक्षा अधिकारी  ने बताया कि कार्यालय द्वारा बार-बार निर्देशित करने के बावजूद अभी पंचायत चुनाव में शहीद हुए परिजनों की पत्रावलियां कार्यालय को उपलब्ध नही कराई गई, और जो उपलब्ध भी कराई गई वो अपूर्ण है ,जिसके कारण कार्यवाही विलम्बित हो रही है जो कि खेदजनक है । 
प्रतिनिधिमंडल में रविचंद्र यादव, वीरेंद्र प्रताप सिंह, रामदुलार,धर्मेंद्र, अरुण यादव सहित खंड शिक्षाधिकारी संजय यादव, जयकुमार यादव ,सुरेंद्र पटेल,राजीव यादव,बसंत शुक्ला, अरुण यादव ,मनोज यादव, पाठक  सहित अन्य लोग उपस्थित रहे ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

मल्हनी विधायक लकी यादव एवं उनके एक दर्जन समर्थको पर बक्शा थाने में दर्ज हुआ मुकदमा