पीएमजीएसवाई सड़क के शिलान्यास को लेकर राज्यमंत्री और सांसद आमने सामने,जानें मंत्री ने सांसद पर क्या लगाया आरोप



जौनपुर। जनपद में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनने वाली सड़क को लेकर अब सांसद जौनपुर श्याम सिंह यादव एवं आवास एवं शहरी नियोजन राज्य मंत्री गिरीश चन्द यादव आमने सामने हो गये है बजरिए मीडिये एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप शुरू कर दिये है। यहां तक इन दोनों राजनैतिको द्वारा एक दूसरे को देखने दिखाने तक की बातें मीडिया के समक्ष की जानें लगी है। आज जौनपुर शहर विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं प्रदेश सरकार के आवास एवं शहरी नियोजन राज्यमंत्री गिरीश चन्द यादव यहां मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत शहर विधानसभा क्षेत्र की जिन तीन सड़को के शिलान्यास को लेकर सांसद जी अनर्गल टिप्पणी कर रहे है वे सभी सड़को को मेरे द्वारा ग्राम्य विकास मंत्री के जरिये भारत सरकार को प्रस्ताव भेजवा कर स्वीकृत कराया गया है। 
राज्यमंत्री श्री यादव ने उन सभी पत्रो का जिक्र किया जो ग्राम्य विकास मंत्री को प्रेषित किया था साथ ही शासन से उनको संबोधित पत्र का भी हवाला दिया जो सड़क स्वीकृत से पहले शासन से जारी किया गया था। राज्य मंत्री ने अपने पत्र 15 जनवरी 20 पत्रांक संख्या  63,दूसरे पत्र दिनांक 18 फरवरी  20 पत्रांक संख्या 197, और तीसरे पत्र 20 मई 20 पत्रांक संख्या 312 का हवाला देते हुए बताया कि 05 सड़को की सूची भेजा था लेकिन तीन स्वीकृत हुई थी। 
इतना ही नहीं राज्य मंत्री ने बताया कि उनके पत्र के क्रम में ग्राम्य विकास मंत्री ने 16 जून 20 को स्पेशल बैठक किया और आदेश दिया कि सभी सड़को का स्थलीय निरीक्षण किया जाये। मंत्री के आदेश के क्रम में मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने पत्र सं 512 से 30 जून 20  को रिपोर्ट भेजा रिपोर्ट के आधार पर पत्र संख्या 1023 दिनांक 27 अगस्त 20 को अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण 02 सड़को का डीपीआर तैयार करने का निर्देश हुआ। ग्रामीण अभियंता ने नियमा नुसार लोक सभा की चयनित 11 सड़को की सूची सांसद जी को भेजा इसके बाद सांसद जी अपने पत्र संख्या 220 दिनांक 18 दिसम्बर 20 को इन सभी सड़को को एक प्रोटेस्ट के साथ बनने हेतु अनुशासित किया था। 
राज्य मंत्री ने लोक सभा की गाईड लाइन दिखाया और कहा कि बतौर मंत्री हमें शिलान्यास करने का अधिकार है। राज्यमंत्री ने सांसद पर असंसदीय भाषा का प्रयोग करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सांसद जी को संसदीय मर्यादाओ का पालन करना चाहिए। मंत्री ने यह भी कहा कि हम किसी को छेड़ेगे नहीं अगर कोई छेड़ेगा तो उसे छोड़ेगे भी नहीं, उसी की भाषा में जबाब दिया जा सकता है। राज्य मंत्री गिरीश चन्द यादव ने प्रधान मंत्री सहित ग्राम्य विकास मंत्री के प्रति आभार जताया और कहा भाजपा सरकार पूरे देश और प्रदेश के विकास के लिए सतत प्रयत्नशील है।
सांसद पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यदि वह प्रधानमंत्री जी विकास कार्य की सराहना कर दे तो उनका नेतृत्व उन्हे बाहर कर देगा लेकिन हम लोग भाजपा नीति निर्धारण में सहयोगी है। साथ में यह भी कहा कि जब जौनपुर की जनता संकट से जूझ रही थी तब सांसद जी कहां गायब थे पता नहीं यही नही रूके बल्कि कहा कि क्षेत्र का बिषय में कोई जानकारी नहीं रखते है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

विधायक और सपा नेता के बीच मारपीट की घटना का जानें सच है क्या,आखिर जिम्मेदार के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं

स्वागत कार्यक्रम में सपाईयों के बीच मारपीट की घटना से सपा की हो रही किरकिरी

हलाला के नाम पर मुस्लिम महिला के साथ सामुहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज मौलाना फरार