लोहिया जी प्रखर समाजवादी और सत्य के पुजारी थे - लालबहादुर यादव




जौनपुर। डा राममोहन लोहिया के पूण्य तिथि की पर समाजवादी पार्टी कार्यालय में श्रद्धांजलि सभा एवं गोष्ठी का आयोजन किया गया।कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सपा जिलाध्यक्ष लालबहादुर यादव ने कहा डा राम मनोहर लोहिया एक स्वत्रंत्रता सेनानी, प्रखर समाजवादी और सम्मानित राजनितिज्ञ थे। लोहिया जी ने हमेशा सत्य का अनुकरण किया और आजादी की लड़ाई में अद्भुत काम किया भारत की राजनीति में स्वत्रंत्रता आंदोलन के दौरान और उसके बाद ऐसे कई नेता आये जिन्होंने अपने दम पर राजनीति का रुख बदल दिया उन्हीं नेताओं में एक थे राम मनोहर लोहिया वे अपनी प्रखर देशभक्ति और तेजस्वी समाजवादी विचारों के लिए जाने गए और इन्हीं गुडों के कारण अपने समर्थकों के साथ साथ उन्होंने अपने विरोधियों से भी बहुत सम्मान हासिल किऐ लोहिया जी ने हमेशा भारत की अधिकारिक भाषा के रूप में अंग्रेजी से अधिक हिंदी को प्राथमिकता दी उनका विश्वास था कि अंग्रेजी शिक्षित और अशिक्षित जनता के बीच दूरी पैदा करती है वह कहते थे कि हिंदी के उपयोग में एकता की भावना और नए राष्ट्र का निर्माण से संबंधित विचारों को बढ़ावा मिलेगा। वे जात पात के घोर विरोधी थे उन्होंने जाति व्यवस्था का विरोध में सुझाव दिया कि रोटी और बेटी के माध्यम से इसे समाप्त किया जा सकता है वह कहते थे कि सभी जाति के लोग एक साथ मिलजुल कर खाना खाएं वहीं लोहिया पार्क मे भी समाजवादी युवजन सभा द्वारा गोष्ठी का आयोजन कर लोहिया के विचारों को रखा गोष्ठी मे मुख्य रुप से विरेन्द्र सिंह, प्रवक्ता राहुल त्रिपाठी, पूनम मौर्या, हीरालाल विश्कर्मा, शिवजीत यादव, भानु प्रताप मौर्य, गुड्डू सोनकर,शेखु खाँ,अजीज फरीदी, राजेश यादव, श्याम नरायन बिन्द,आरीफ हबीब, रमेश साहनी मालती निषाद ऊषा यादव सोनी यादव गोष्ठी का संचालन जिला महाचिव हिसामुद्दीन शाह ने किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

विधायक और सपा नेता के बीच मारपीट की घटना का जानें सच है क्या,आखिर जिम्मेदार के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं

स्वागत कार्यक्रम में सपाईयों के बीच मारपीट की घटना से सपा की हो रही किरकिरी

हलाला के नाम पर मुस्लिम महिला के साथ सामुहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज मौलाना फरार