विधायक और कथित सपा नेता के विवाद को लेकर सपा जन पहुंचे डीएम के दरबार, जानें डीएम से क्या हुई मांग


जौनपुर। विगत 23 अक्टूबर को सपा के प्रदेश महासचिव के स्वागत के दौरान सपा के मल्हनी विधायक लकी यादव और सपा के कथित नेता डाॅ मनोज कुमार यादव के विवाद के मामले को अब सपा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता विधायक के पक्ष में आवाज बुलंद करने लगे है 
आज मल्हनी विधानसभा क्षेत्र के सपा अध्यक्ष के नेतृत्व में सपाईयों ने एक पत्रक के जरिये जिलाधिकारी के दरबार में पहुंचाते हुए विधायक के खिलाफ थाना बक्शा में दर्ज फर्जी मुकदमें को निरस्त कराने की मांग किया है।
जिलाधिकारी ने सपा जनों की बात को गम्भीरता से सुनने के पश्चात पुलिस अधीक्षक से भी बात किये और निर्देश भी दिया कि मामले को गंभीरता लें और जो सही हो उसके अतिरिक्त कुछ भी न किया जाये साथ ही ज्ञापन देने वालों को आश्वस्त किया कि पूरे मामले की जांच एसडीएम से करा कर न्याय कराया जायेगा। 
मांग पत्र में सपा जनों ने कहा कि महासचिव के स्वागत के समय गाड़ियों के ओवर टेक को लेकर विधायक के सहयोगियों और कथित सपा नेता डा मनोज कुमार यादव के बीच कहा सुनी हो गयी थी इसी को लेकर लखौंवा बाजार में सुरक्षा कर्मियों की मौजूदगी में डा मनोज कुमार यादव ने विधायक के खिलाफ अप शब्दो का प्रयोग किया इसी के चलते हाथा पाई हो गई थी लेकिन डा मनोज कुमार यादव के फर्जी तहरीर पर बक्शा पुलिस ने विधायक सहित चार  लोंगो के लूट और छिनैती के आरोप का मुकदमा दर्ज कर लिया है जो पूरी तरह से फर्जी है इस मुकदमें को निरस्त किया जाये। 
मांग पत्र देने वालों का नेतृत्व मल्हनी विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी रामधारी पाल कर रहे थे इनके साथ बेचन राम विश्वकर्मा, रामयश यादव,महावीर यादव, दिवाकर यादव, निजामुद्दीन, राजेश यादव, बच्चूलाल यादव, ओमप्रकाश, संतोष सोनकर, शिवकुमार निषाद, साहब लाल यादव आदि लगभग डेढ़ सौ कार्यकर्ता गण विधायक के पक्ष में डीएम के पास गये थे। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम