जहरीली शराब ने लील लिया पांच जिन्दगियां शासन प्रशासन है बेखबर, घटना के बाद पुलिस करी है जांच


जहरीली शराब पीने के बाद पांच लोगों की मौत हो गयी है, तो 10 से अधिक लोगों की हालत नाजुक है. यह मामला आजमगढ़ के अहरौला थाना क्षेत्र के माहुल कस्बे का है। सूचना के बाद आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए थे वहीं, गंभीर हालत वाले सभी लोगों को अस्पताल में भर्ती में कराया गया है।
 देसी शराब पीने से जिन पांच लोगों की मौत हुई है उनमें से चार माहुल नगर पंचायत के 32 साल के फेकू, 45 साल के झब्बू, 50 साल के रामकरन और  40 साल के अच्छेलाल शामिल हैं। जबकि पांचवां नाम फूलपुर कोतवाली के दक्खिन गांव का निवासी रामप्रीत यादव (60) है।
 मृतकों के परिवार के मुताबिक, इन सभी लोगों ने रविवार को माहुल कस्बा स्थित देसी शराब की दुकान से शराब खरीदी थी। इसे पीने के बाद जब हालत बिगड़ने लगी तो आसपास के अस्पतालों में ले जाया गया था, यही नहीं, 10 अधिक लोग अभी भी अस्‍पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं। 
जानकारी के मुताबिक, जहरीली शराब पीने के बाद देर रात लोगों की तबीयत खराब होने की बात चली. इसके बाद लोग रातभर तबीयत खराब होने वालों को अस्‍पताल ले जाते रहे. मृतकों के परिजनों के मुताबिक, सभी लोगों ने माहुल कस्‍बे की ही एक देसी शराब की दुकान से शराब खरीद पी थी, लेकिन इसके बाद लोगों की तबीयत खराब होने लगी. इसके बाद लोगों को अस्‍पताल ले जाया गया, लेकिन पांच लोगों ने दम तोड़ दिया। वहीं, पांच लोगों की मौत होने के बाद उनके परिवार में मातम पसरा हुआ है. इस वक्‍त पुलिस इस मामले की जांच पड़ताल कर रही है। वहीं, पांच लोगों की मौत के बाद प्रशासन पर सवाल उठ रहे हैं।
मृतकों के परिजनों का कहना है कि प्रशासन की लापरवाही से जहरीली शराब की क्षेत्र में बिकी हो रही है. इस वजह से अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है और 10 से ज्‍यादा लोगों की हालत खराब है. प्रशासन को दोषियों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई करनी चाहिए । हालांकि दोपहर बाद तक इस मामले को लेकर पुलिस ने अभी कोई कार्रवाई नहीं की है, लेकिन जांच पड़ताल चल रही थी।

टिप्पणियाँ

  1. बहुत दुखद घटना ,सरकारी दुकान पर अगर गड़बड़ शराब बिक रही हैं तो ठेकेदार को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए।

    जवाब देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन