जनसंख्या नियंत्रण के लिए कड़े प्राविधानों की जरूरत, बढ़ती जनसंख्या संसाधन को बड़ी चुनौती- डॉ. मनोज मिश्रा


जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के जनसंचार विभाग  में आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर जनसंख्या विस्फोट एवं खाद्य सुरक्षा विषयक सेमिनार का आयोजन किया गया.
जनसंचार विभाग के अध्यक्ष डॉ. मनोज मिश्र ने कहा कि सरकार को जन जागरुकता के साथ कड़े नियम बनाने होंगे जिससे जनसँख्या विस्फोट की स्थिति को रोका जा सके। सबके लिए खाद्य पदार्थ उपलब्ध कराना आज और भविष्य के लिए बहुत बड़ी चुनौती है. यदि दुनिया में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर नई चेतना पैदा करनी होगी.उन्होंने कहा कि बढ़ती जनसँख्या के चलते हमारे संसाधन सीमित हो रहे है जिसका एक नवीनतम उदाहारण देश के कुछ महानगर है जहा भूमिगत जल ही समाप्त हो रहे है।  
विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी डॉ. सुनील कुमार ने कहा कि कोरोना काल में सरकार ने  इतनी बड़ी जनसँख्या को खाद्यान उपलब्ध कराने में कोई कमी नहीं की. इससे सरकार को बड़े आर्थिक बोझ का सामना करना पड़ा है. अगर जनसँख्या वृद्धि नहीं रूकी तो देश को गरीबी, अशिक्षा और बेरोजगारी का सामना करना पड़ेगा. विभाग के सहायक आचार्य डॉ. अवध बिहारी सिंह ने सेमिनार के विषय जनसंख्या विस्फोट एवं खाद्य सुरक्षा पर विस्तार से  प्रकाश डाला.
धन्यवाद ज्ञापन सह नोडल प्रभारी डॉ. जान्हवी श्रीवास्तव एवं संचालन संयोजक डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर ने किया. इस अवसर पर डॉ. चन्दन सिंह, अन्नू त्यागी, आनंद कुमार सिंह, पंकज सिंह समेत सामाजिक अनुप्रयुक्त सामाजिक विज्ञान एवं मानविकी  संकाय के विद्यार्थी उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जफराबाद विधायक को हार्ट अटैक फस्टेड के बाद, मेदान्ता के लिए रेफर

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

योगी सरकार ने यूपी में आज फिर 12 आईएएस का तबादला, देखे सूची