अपने 67 वें जन्म दिवस पर चुनाव को लेकर मायावती का बड़ा एलान, जानें क्या होगा राजनीति में असर



बसपा सुप्रीमों मायावती ने अपने 67वें जन्मदिन के मौके पर यह ऐलान किया है कि आगामी विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी गठबंधन नहीं करेगी। बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने लखनऊ में एक प्रेस कांफ्रेंस कर यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि आगे होने वाले राज्यों के विधान सभा और अगले वर्ष देश में होने वाले लोकसभा के लिए आम चुनाव में हमारी पार्टी किसी भी अन्य पार्टी के साथ कोई भी गठबंधन कर चुनाव नहीं लड़ेगी। मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी ने पहले गठबंधन में चुनाव लड़ा है और उनसे मिले अनुभवों के आधार पर फैसला किया है कि बीएसपी अब अकेले चुनाव लड़ेगी।

अपने आवास पर मीडियो को संबोधित करते हुए बीएसपी सुप्रीमों ने कहा कि छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में 2023 में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस गठबंधन का भ्रम फैला रही है। उन्होंने कहा कि हमनें पहले भी गठबंधन के तहत चुनाव लड़ा था लेकिन उन चुनावों के अनुभव ठीक नहीं रहे थे। बकौल मायावती, बीएसपी का वोट तो ट्रांसफर होता है लेकिन अन्य दलों के साथ ऐसा नहीं होता है लिहाजा पार्टी ने तय किया है कि अगले विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव बहुजन समाज पार्टी अकेले दम पर लड़ेगी।

Comments

Popular posts from this blog

16 मई को कक्षा एक से आठ तक के सभी विद्यालय बन्द रहेगे - बीएसए जौनपुर

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल