पुरानी पेंशन बहाली के लिए राष्ट्रव्यापी हड़ताल हेतु सहमति पत्र जनमत संग्रह का आयोजन


चरणबद्ध आन्दोलन के अन्तिम चरण की सफलता के लिए कर्मचारी शिक्षक संगठनो द्वारा बनाई गयी रणनीति

जौनपुर। केंद्र,राज्य कर्मचारी, शिक्षक एवं रेलवे कर्मचारी संगठनो द्वारा पुरानी पेंशन योजना बहाली संयुक्त मंच का राष्ट्रीय स्तर पर गठन कर विगत कई माह से चरणबद्ध आंदोलन चलाया जा रहा है जिसमे जिला स्तर पर मशाल जुलूस,धरना प्रदर्शन,गांधी प्रतिमा के समक्ष मौन व्रत रख कर माo प्रधानमंत्री एवं माo मुख्यमंत्री जी को ज्ञापन प्रेषण,लखनऊ एवं दिल्ली के रामलीला मैदान में विशाल प्रदर्शन सहित अनेकों आंदोलन किए गए किन्तु सरकार की कर्मचारी विरोधी नीतियों से क्षुब्ध हो कर "पुरानी पेंशन योजना बहाली संयुक्त मंच" के बैनर तले माह जनवरी में राष्ट्रव्यापी हड़ताल की तैयारी शुरू कर दिया है।जिसके तहत रेल कर्मचारी संगठनों एवम राज्य कर्मचारी शिक्षक संगठनो ने हड़ताल शुरू करने से पूर्व कर्मचारियों शिक्षको से लिखित सहमति पत्र जनमत संग्रह प्रारंभ करने का कार्यक्रम राष्ट्रीय स्तर पर  प्रारंभ कर उक्त सहमति पत्र को राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रांतीय कार्यालय लखनऊ में 01 दिसंबर 2023 को मीडिया के सामने प्रस्तुत कर केंदीय नेतृत्व द्वारा हड़ताल की घोषणा की जानी है।उक्त आयोजन में आज दिनांक 28 नवंबर 2023 को जौनपुर जिला मुख्यालय पर स्थित विकास भवन परिसर में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिलाध्यक्ष डॉo प्रदीप कुमार सिंह के नेतृत्व में कार्यकारिणी की बैठक, पत्रकार वार्ता एवम कर्मचारियों से हड़ताल के लिए लिखित सहमति पत्र जनमत संग्रह कराया गया जिसमे 90 प्रतिशत से भी अधिक कर्मचारियों शिक्षको ने  पुरानी पेंशन बहाली के लिए अपनी लिखित सहमति  को जनमत संग्रह हेतु रखे गए मत पेटिका में डाल कर हड़ताल हेतु अपनी सहमति दी। इस अवसर पर बैठक की अध्यक्षता करते हुए  परिषद के जिलाध्यक्ष डॉo प्रदीप कुमार सिंह ने सरकार से पुरानी पेंशन योजना मूल रूप में लागू करने की अपील की और चेतावनी भी दी कि यदि 2024 लोक सभा चुनाव से पूर्व पुरानी पेंशन बहाल नही हुयी तो सरकार को इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। नियोजन एवं कर्णिक संघ के जिला अध्यक्ष सुजीत सिंह ने कहा पुरानी पेंशन बहाल न होने की स्थिति में उग्र आंदोलन किया जाएगा। नॉर्दर्न मेंस रेलवे यूनियन के जिलामंत्री सी पी सिंह ने कहा कि राज नेताओं को पुरानी पेंशन तो कर्मचारियों शिक्षको को क्यों नहीं? प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष अमित सिंह ने चेतवानी दी कि सरकार को यह याद रखना होगा कि हम हमारा परिवार  मतदाता हैं तो मतदान अधिकारी भी हम ही रहेंगे। परिषद के संघर्ष समिति के चेयरमैन दयाराम गुप्ता ने कहा पुरानी पेंशन बहाली हेतु आगामी रणनीति एवं  संघर्ष के लिए हम सभी कमर कस चुके हैं। परिषद के जिला मंत्री देवेश यादव ने समस्त कर्मचारी शिक्षक साथियों से आपसी मतभेद भुला कर आगामी हड़ताल को सफल बनाने की अपील किया। परिषद के संप्रेक्षक एवं उत्तर प्रदेश ग्रामीण राज सफाई कर्मचारी संघ जनपद जौनपुर के जिला अध्यक्ष अमर बहादुर यादव ने चेतवानी दी कि यदि पुरानी पेंशन बहाली नही हुई तो यह आंदोलन उग्र होगा ।
 आज के आन्दोलन में मुख्य रूप से ग्राम पंचायत अधिकारी संघ, कोषागार संघ, ग्राम विकास एसोसिएशन, आईटीआई संघ , डिप्लोमा इंजीनियर्स  महासंघ, प्राथमिक ,पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ,रेलवे कर्मचारी संघ,विकास भवन कर्मचारी संघ,उद्दान,उद्योग,कृषि,आपूर्ति,चकबंदी,आर टी ओ कर्मचारीसंघ,जल निगम,नगर पालिका,राजस्व संग्रह अमीन संघ,पी डब्लू डी मिनी० एसोo,बोरिंग टेक्निशियन संघ,महाविद्यालय संघ ,माध्यमिक विद्यालय कर्मचारी संघ,जिला पंचायत,वन विभाग कर्मचारी संघ,ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ,यू पी एजुकेशनल मिनी आफिसर्स ऐशो,सिंचाई संघ आदि कई दर्जन कर्मचारी शिक्षक संगठनो ने  सहभागिता किया।
बैठक को मुख्य रूप से डा.अतुल प्रकाश यादव, सुधाकर सिंह, प्रमोद सिंह,धर्मेंद्र सिंह, डॉक्टर फूलचंद कनौजिया, रामकृष्ण पाल, माया शंकर मिश्र, संजय सिंह, तेज बहादुर, अजय लाल मौर्य, पीएन सिंह, सरिता सिंह, प्रमोद शर्मा, सुनील गुप्ता, जयप्रकाश गुप्ता, राजीव कुमार रोशन, सुजीत विश्वकर्मा,राजकुमार गुप्ता,  सत्यप्रकाश सिंह, संजय चौधरी,विजयभान यादव, पुष्पेंद्र कुमार आदि ने संबोधित किया एवम संचालन देवेश यादव ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद