जानिए आखिर किस लापरवाही में प्रधानाध्यापक हुई निलम्बित, बीईओ जांच अधिकारी बने


जौनपुर। विकास खण्ड धर्मापुर स्थित सम्मोपुर कला प्राथमिक विद्यालय की प्रभारी प्रधानाध्यापक को बीएसए ने एमडीएम में अनियमितता और भ्रष्टाचार करने तथा विद्यालय के कंपोजिट ग्रांट को खर्च न करने के आरोप में निलंबित कर दिया। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के जांच में खामियां मिली थी। करंजाकला के बीईओ को जांच अधिकारी नामित किया गया।
जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी राजेश खरवार 29 नवंबर को धर्मापुर ब्लॉक स्थित सम्मोपुर कला प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण करने पहुंच तो उन्हें विद्यालय में प्रभारी प्रधानाध्यापक गीता देवी द्वारा एमडीएम में भारी अनियमितता करते हुए पाया गया। विद्यालय का कंपोजिट ग्रांट खर्च न करने की बात सामने आई। विद्यालय में मल्टीपल हैंडवाश टूटा और परिसर में लगा हैंडपंप एक महीने से खराब पड़ा मिला। बच्चे व अन्य महिला शिक्षक पास के नलों से पानी ला रहे हैं। लापरवाही पर जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने नाराजगी जताते हुए प्रभारी प्रधानाध्यापक गीता देवी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए बीएसए को आख्या भेजी। इसे ज्ञान में लेते हुए बीएसए डॉ.गोरखनाथ पटेल ने प्रभारी प्रधानाध्यापक गीता देवी को निलंबित कर दिया।
बीएसए डॉ.गोरखनाथ पटेल ने बताया कि जिला अल्पसंख्यक अधिकारी के निरीक्षण के दौरान प्रभारी प्रधानाध्यापक गीता देवी द्वारा कंपोजिट ग्रांट में भारी लापरवाही व एमडीएम में अनियमितता मिली थी।आख्या पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को निलंबित किया गया। इसमें बीईओ करंजाकला श्रवण कुमार यादव को जांच अधिकारी बनाकर जिम्मेदारी सौंपी गई हैं। वही उक्त प्रभारी प्रधानाध्यापक को पूर्व माध्यमिक विद्यालय खलसहा से संबद्ध कर दिया गया हैं।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र