एक पैन कार्ड पर दो शिक्षिकायें जानें कैसे कर रही है नौकरी,जांच में खुली पोल एक की सेवा समाप्त


उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में आगरा व फर्रुखाबाद की शिक्षिका का एक ही पैन कार्ड होने के मामले की जांच रिपोर्ट में संदिग्ध पाई गई शिक्षा का बर्खास्त होना तय माना जा रहा है। अब शिक्षिका को आखिरी नोटिस भेजकर सुनवाई के लिए 19 जुलाई को बुलाया गया है। दरअसल, फर्रुखाबाद में एक ही पैन कार्ड पर दो शिक्षिकाओं के नौकरी करने का मामला सामने आते ही शिक्षा विभाग सक्रिय हो गया। मामला संज्ञान में आने के बाद एक शिक्षिका को बर्खास्त कर दिया गया जबकि एक शिक्षिका को नोटिस भेजा गया है। वर्ष 2020 में एसआईटी ने फर्रुखाबाद जिले में दो शिक्षिकाओं के पैन कार्ड की जांच के लिए बीएसए कार्यालय पत्र भेजा था। जिस पर इन दोनों का वेतन को जांच के आदेश दिए थे। इसमें नगर क्षेत्र के एक विद्यालय में तैनात शिक्षिका अनीता यादव को पहले ही बर्खास्त किया जा चुका है। जबकि नवाबगंज ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय नया गनीपुर में तैनात शिक्षिका सुमन की जांच रिपोर्ट में उसे संदिग्ध पाया गया। जांच रिपोर्ट के बाद संबंधित शिक्षिका के लिए तीन नोटिस भेजे गए.लेकिन वह उपस्थित नहीं हुई।
 बीएसए लालजी यादव ने बताया कि 4 जुलाई को शिक्षिका सुमन ने पत्र भेजकर कोरोना पॉजिटिव होने का हवाला देते हुए मोहलत मांगी थी। 12 जुलाई को उसे सुनवाई के लिए बुलाया था.लेकिन वह नहीं आई अब आखिरी नोटिस शिक्षिका को भिजवाया है। अगर वह उपस्थित नहीं होती है तो उसके बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

मल्हनी विधायक लकी यादव एवं उनके एक दर्जन समर्थको पर बक्शा थाने में दर्ज हुआ मुकदमा