जमीन पर कब्जा कराने गयी पुलिस और एसडीएम पर ग्रामीण जनों का हमला दो दरोगा सहित सात सिपाही घायल


जौनपुर। थाना केराकत क्षेत्र स्थित कटहरी गांव में शनिवार की शाम एसडीएम के साथ भूमि पर कब्जा कराने गयी थाने की पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने पत्थरबाजी कर दी। हमले में दो दारोगा समेत सात पुलिसकर्मी घायल हो गए। घायलों को सीएचसी ले जाया गया। डाक्टरों ने एक पुलिस जवान को जिला अस्पताल रेफर कर दिया है। गांव के शंकर सरोज व वीरेंद्र सरोज के बीच काफी समय से भूमि विवाद चल रहा था। एक पखवाड़ा पूर्व एसडीएम माज अख्तर पुलिस फोर्स लेकर कब्जा दिलाने गांव में गए थे। तब भी ग्रामीणों के उग्र विरोध के कारण वापस लौटना पड़ा था। उसी भूमि पर पुनः कब्जा दिलाने के लिए भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ शनिवार की शाम को फिर मौके पर गए।
पुलिस ने उपद्रव की आशंका में कई महिलाओं को हिरासत में लेकर वास्तविक मालिक को जमीन कब्जा दिलाने की प्रक्रिया शुरू की। उसी समय एसडीएम पर कुछ महिलाओं ने पहले कीचड़ फेंक दिया। महिला पुलिस कर्मियों ने पकड़ना चाहा तो ग्रामीणों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। पथराव में उप निरीक्षक प्रतिमा सिंह, उप निरीक्षक नान्हू यादव, हेड कांस्टेबल सुनीता वर्मा, प्रीति सिंह, कांस्टेबल सोनू यादव, प्रियंका व लीलावती घायल हो गईं। सीएचसी से डाक्टरों ने प्रीति सिंह को जिला अस्पताल भेज दिया।


 पुलिस ने गांव के 20 लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास, सरकारी कामकाज में बाधा सहित एक दर्जन धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। एसडीएम माज अख्तर ने बताया कि जमीन पर विपक्षी आठ साल से कब्जा किए हुए थे। उसे मुक्त कराकर असली मालिक को काबिज करा दिया गया है। छीना-झपटी में कुछ महिला पुलिस कर्मी घायल हुई हैं। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक संजय वर्मा का कथन है कि आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच

बिजली विभाग बड़े बकायेदारो से बिल की वसूली कराये - डीएम जौनपुर

मंत्री गिरीश चन्द यादव का अखिलेश यादव पर जबरदस्त पलटवार,दे दिया केन्द्रीय मंत्री बनाने का आफर