सीएम का पुतला दहन के आरोप में 18 नामजद, 150 अज्ञात अधिवक्ताओ पर एफआईआर, गुस्से में अधिवक्ता



आजमगढ़ के लालगंज तहसील गेट पर मुख्यमंत्री का पुतला जलाने वाले अधिवक्ताओं पर बुधवार को पुलिस ने कार्रवाई की। चौकी प्रभारी लालगंज की तहरीर पर देवगांव कोतवाली में 18 नामजद समेत 100 से 150 अज्ञात अधिवक्ताओं पर मुकदमा दर्ज हुआ। पुलिस की इस कार्रवाई से अधिवक्ताओं में नाराजगी है।
बार कौंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के आह्वान पर मंगलवार को लालगंज तहसील बार के अधिवक्ताओं ने छह सूत्री मांगों को लेकर आंदोलन किया था। इस दौरान विरोध-प्रदर्शन करने के साथ ही मुख्यमंत्री का प्रतीकात्मक पुतला फूंका और एसडीएम को पत्रक सौंपा।
अधिवक्ताओं के इस आंदोलन का भाजपा नेताओं ने बैठक कर विरोध दर्ज कराते हुए कानूनी कार्रवाई की मांग की थी। मुख्यमंत्री का पुतला फूंके जाने के मामले को पुलिस महकमे ने गंभीरता से लिया। चौकी प्रभारी लालगंज देवेंद्र नाथ दूबे की तहरीर पर देवगांव कोतवाली में 18 नामजद समेत 100 से 150 अज्ञात अधिवक्ताओं पर मुकदमा दर्ज किया गया।
नामजद किए गए अधिवक्ताओं में राजनाथ यादव, हामिद अली, विजय प्रकाश पांडेय, विंध्यवासिनी राय, रामसेवक यादव, विनय राय, देवनरायण, हरि यादव, शिव प्रकाश यादव, सुधीर श्रीवास्तव, धर्मेंद्र पाठक, अमरनाथ, चंद्र मोहन, लल्ले मिश्रा, अनुज तिवारी, सुरेंद्र चौहान, राम विजय सिंह, पंकज सोनकर शामिल हैं। पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज कराये जाने से तहसील बार के अधिवक्ताओं में आक्रोश देखने को मिल रहा है। 

Comments

Popular posts from this blog

बाहुबली नेता एवं पूर्व विधायक के परिवार जनों पर फिर मारपीट और छेड़खानी का मुकदमा हुआ दर्ज, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

सपा ने जारी किया सात लोकसभा के लिए प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से मौर्य समाज पर दांव,बाबू सिंह कुशवाहा प्रत्याशी घोषित देखे सूची

भाजपा के प्रत्यशियो की दसवीं सूची जारी, मछलीशहर से भी प्रत्याशी घोषित देखे सूची