थाने में अधिवक्ता की पिटाई से नाराज अधिवक्ता संघ न्यायिक से विरत रहकर एसपी को सौंपा ज्ञापन, कार्यवाई ने होने पर आन्दोलन की चेतावनी


जौनपुर। थाना खुटहन के अन्दर घुसकर अधिवक्ता की पिटाई की घटना ने अब यह तो साफ कर दिया है कि दबंग और अपराधियों के अन्दर पुलिस का कितना खौफ है। हलांकि इस घटना से जौनपुर दीवानी बार के अधिवक्ता खासे गुस्से में है और अधिवक्ता को थाने के अन्दर मारने पीटने वालो को तत्काल जेल की सलाखो के पीछे पहुंचाने की मांग करते हुए न्यायिक कार्य से विरत रहने साथ ही पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन पत्र दिया है।
खबर है कि भारतीय जनता पार्टी के जिला पंचायत सदस्य सूबेदार सिंह के द्वारा खुटहन थाने के अंदर घुसकर पुलिस के सामने सिविल कोर्ट के अधिवक्ता पद्माकर उपाध्याय से मारपीट किया गया है।पद्माकर उपाध्याय के द्वारा दी गई तहरीर के अनुसार 19 तारीख को शाम 4 बजे को पड़ोसी अरविंद सिंह ,अखिलेश सिंह, दिनेश सिंह पुत्र गण बेचन सिंह तथा अमर प्रताप उर्फ शिवम , शुभम सिं ह पुत्रगण अखिलेश सिंह ,आशीष उर्फ बीकू सिंह पुत्र दिनेश सिंह, सुधा सिंह पत्नी अखिलेश, पूनम सिंह पत्नी दिनेश ,तथा रामशिला पत्नी अरविंद अधिवक्ता के तालाब पर आकर जबरदस्ती मछली मारकर उठा ले गए इसकी शिकायत पद्माकर उपाध्याय ने लेखपाल को दिया और लेखपाल मौके पर पहुंचकर उन लोगों से मछली मारने से मना कर दिया। लेखपाल के जाते ही वह सभी लोग लाठी डंडे से लैस होकर अधिवक्ता के दरवाजे पर चढ़ाई कर दिए और हाथ से असलहा लहराते हुए दिनेश सिंह ने फायर कर दिया और धमकी दिया कि अगर तुम लोग तालाब पर दिखे तो तुमको और तुम्हारे परिवार को मार कर खत्म कर देंगे।
इसी समय पद्माकर से मिलने आए विपिन यादव पुत्र विजय यादव ग्राम खानपुर को वे लोग मारते हुए अपने साथ उठा ले गए और बुरी तरह से मारपीट दिए जिससे उसकी काफी चोटें आयी हैं उसका इलाज के लिए पुलिस ने सीएचसी खुटहन भेज दिया जिसकी हालत काफी गंभीर है। गंभीर हालात को देखते हुए खुटहन सीएचसी से जिला अस्पताल रेफर कर दिया। 
जब पद्माकर उपाध्याय में विपिन यादव को भर्ती करा कर आ रहे थे तो सूबेदार सिंह पुत्र मथुरा सिंह ग्राम मीरपुर, दिनेश सिंह ,अरविंद सिंह ,विशाल सिंह ,अखिलेश सिंह निवासी जमीन बस्ती ने पद्माकर उपाध्याय की गाड़ी का पीछा करने लगे और मां बहन की गाली गलौज की और जान सीमा करने की धमकी देने लगे ।सूबेदार सिंह ने हाथ से असला निकालकर जानलेवा फायरिंग कर उपाध्यय को रोकने की कोशिश की पद्माकर उपाध्यय अपनी जान बचाने के लिए फॉर्च्यूनर कार से भागते हुए खुटहन थाने के अंदर घुस गये उनका पीछा कर रहे दबंग लोग थाने के अंदर भी घुस गए और जब पद्माकर उपाध्याय और  उनका भाई अपनी जान बचाने के लिए थाने के मुंशी के पास पहुंचा और अपने जान बचाने की गुहार लगा रहे उसी समय थाने में घुसे दबंगो ने अधिवक्ता और उसके भाई पर हमला बोल दिया और मारने पीटने लगे।पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए बीच बचाव किया। 
अधिवक्ता के साथ थाने के अंदर की गई मारपीट के बाद जौनपुर अधिवक्ता संघ आक्रोशित हो गया है उन्होंने पुलिस अधीक्षक जौनपुर को ज्ञापन देकर खुटहन पुलिस और सूबेदार सिंह सहित अन्य आरोपियों पर जल्द से जल्द गिरफ्तारी कर विधिक कार्यवाई करने की मांग किया है। गुस्साए अधिवक्ताओ ने एलान किया है कि अधिवक्ता को मारने पीटने वाले जल्द जेल नहीं भेजे गए तो जनपद में न्यायिक कार्य पूरी तरह से ठप कर दिया जायेगा।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र