प्रवासी मजदूरों की समस्या को लेकर लहू से लिखा राज्यपाल को पत्र





      जौनपुर।  कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण देश के महानगरों से वापस अपने घरों को पलायन कर रहे प्रवासी मजदूरों की समस्या अब धीरे-धीरे राजनैतिक प्रतिस्पर्धा बनती जा रही है। इसके लिए जिम्मेदार चाहे जिसे ठहराया जायँ लेकिन विपक्ष की राजनीति करने वाला छोटा बड़ा हर नेता सरकार के उपर हमलावर हो गया है। सबके अपने अपने तरीके अलग है। 
इसी क्रम में जनपद जौनपुर के निवासी  एवं समाजवादी पार्टी यूथ ब्रिगेड के पूर्व प्रदेश सचिव सैयद अबूजार जैदी ने गरीब प्रवासी मजदूरों की समस्या एवं प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था के मुद्दे को लेकर अपने खून से सरकार के खिलाफ शिकायती पत्र लिख कर प्रदेश के महामहिम राज्यपाल को भेजा है। अपने पत्र में अबूजार जैदी ने मांग किया है कि गरीब प्रवासी मजदूरों को साधन मुहैया कराके उनको उनके घरों तक पहुंचाने की सुविधा प्रदान करायी जाये। सरकार की लापरवाहीयो के कारण प्रवासी मजदूर भूखे प्यासे पैदल चलने को मजबूर हैं। 
इसी के साथ जैदी ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि प्रदेश में कानून का राज नहीं रह गया है लाक डाऊन की अवधि में लगभग रोज हत्या जैसी जघन्य घटनाएं हो रही है सरकार इस पर लगाम लगाने में पूरी तरह से असफल हो गयी है। बलात्कार की घटनाये बढ़ी है । जैदी ने मांग किया है कि सरकार चलाने में असमर्थ योगी जी से इस्तीफा लेना चाहिए ।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद