शिक्षक पर पुलिसिया गुन्डई जब सिपाही ने अकारण तान दी पिस्टल



जौनपुर जनपद में वर्दी के रौब का मामला देर रात सामने आया जब पुलिसकर्मियों ने पहले तो अपनी एसयूवी से एक डिग्री कॉलेज के चेयरमैन व पेशे से शिक्षक की कार में पीछे से टक्कर मार दी और इसके बाद उनसे अभद्रता करते हुए पिस्टल भी तान दी। पीड़ित के अनुसार मामला बीती रात डेढ़ बजे के आसपास का है। पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। 

शहाबुद्दीनपुर निवासी पेशे से शिक्षक अनिल पांडेय का रामनगर में राजाराम डिग्री कॉलेज है। जिसके वह चेयरमैन व उनके पिता प्रबंधक हैं। गत दिवस उनके एक मित्र के कालेज की बस छात्राओं को लेकर अयोध्या टूर पर जा रही थी। कोहरा अधिक होने की वजह से जब आगे जाना असंभव हो गया तो उन्होंने अनिल पांडेय को फोन किया और राजाराम डिग्री कॉलेज में ठहरने की व्यवस्था मांगी।

उक्त बस को अपने कॉलेज में ठहरने की व्यवस्था करके वापस घर लौट रहे थे कि तभी रामनगर के पास उनकी कार में प्रभारी निरीक्षक सरपतहां की टाटा सूमो ने पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। जिससे उनकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। आरोप है कि अभी वे कुछ समझ पाते कि तभी पुलिस ने अपनी गाड़ी आगे लाकर उनके सामने रोक दिया और कुछ पुलिसकर्मी उतर कर उनसे अभद्रता करते हुए उनकी गाड़ी की चाबी छीनने लगे। उन्होंने जब प्रतिवाद किया तो उनके ऊपर एक पुलिसकर्मी ने पिस्टल तानकर जान से मारने की धमकी भी दी। अब सवाल इस बात का है कि क्या अधिकारी इसे गम्भीरता से लेंगे। 

इस तरह के किसी मामले की कोई जानकारी नहीं

मुझे इस तरह के किसी मामले की कोई जानकारी नहीं है। मेरी गाड़ी से टक्कर होती तो कम से कम मुझे तो पता होता। चेयरमैन क्यों और किस नीयत से ऐसा आरोप लगा रहे हैं इसे वही बता सकते हैं। जेपी सिंह, प्रभारी निरीक्षक सरपतहां।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

विधायक और सपा नेता के बीच मारपीट की घटना का जानें सच है क्या,आखिर जिम्मेदार के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं

स्वागत कार्यक्रम में सपाईयों के बीच मारपीट की घटना से सपा की हो रही किरकिरी

हलाला के नाम पर मुस्लिम महिला के साथ सामुहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज मौलाना फरार