शिक्षक माँ बाप ने अपने दो बेटियों को उतारा मौत के घाट,जाने पूरा मामला क्या है



भारत के अन्दर अंधविश्वास की दुनियां में जीवन जीने वालों की कमी नही है। अपने स्वार्थ के लिए बहुतों ने अपने छोटे बच्चों की बलि चढ़ाई है। भले ही भारत आधुनिकता की दुनियां में आगे बढ़ रहा है लेकिन अभी भी देश से अंधविश्वास की घटनाएं जारी हैं। जी हां, कुछ ऐसा ही मामला आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले से सामने आया है, जहां अंधविश्वास के कारण मां-बाप ने ही अपनी दो युवा बेटियों की जान ले ली। आपको जानकर हैरानी होगी कि अपनी बेटियों की जान लेने वाले ये दपंति प्रिंसिपल के पद पर कार्यरत है। ये घटना बीते रविवार की रात की बताई जा रही है।
आपको बता दें कि चित्तूर जिले में प्रिंसिपल दंपति ने अंधविश्वास के चक्कर में पड़कर अपनी दो युवा बेटियों की जान ले ली। दोनों बेटियों की पहचान अलेख्या (27 साल) और साई दिव्या (22) के तौर पर की गई है। दोनों बेटियों के पिता का नाम पुरुषोत्तम नायडू और माता का नाम पद्मजा है। दोनों दपंति प्रिंसिपल के पद पर कार्यरत हैं। जानकारी के मुताबिक, प्रिंसिपल दंपति का परिवार मदनापल्ले में शिवालयम टेम्पल स्ट्रीट के रहने वाले थे। बताया जा रहा है कि मां पद्मजा ने दोनों बेटियों पर डम्बबेल से मार कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया।
इस मामले पर जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया है कि ये परिवार कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान अजीब तरीके से बर्ताव कर रहा था। पड़ोसियों ने इस घर से रविवार रात को चिल्लाने की आवाजें सुनीं तो पुलिस को इसकी जानकारी दी। जानकारी मिलने पर जब पुलिस उनके घर पहुंची तो दपंति ने पुलिस को रोकने की कोशिश की। लेकिन जब घर में पुलिस गई तो दोनों लाशों को देख हैरान हो गई। दोनों लाशें लाल कपड़ें से ढकी हुई थी। पुलिस ने तुरंत दोनों को हिरासत में ले लिया।
पुलिस ने जब उनसे पूछताछ की तो दोनों ने बताया कि उनकी दोनों लड़कियां सूरज उगने के साथ ही जीवित हो जाएंगी क्योंकि ‘कलयुग’ खत्म हो जाएगा और सोमवार से ‘सतयुग’ शुरू हो जाएगा। पुलिस ने पति-पत्नी को हिरासत में ले लिया और दोनों लाशों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
बताते चलें कि मृत बेटियों के बारे में तो, कहा जा रहा है परिवार की सबसे बड़ी बेटी अखेल्या ने भोपाल से मास्टर्स डिग्री प्राप्त की थी, जबकि छोटी बेटी साई दिव्या ने बीबीए की हुई थी। इसके अलावा दिव्या मुंबई में एआर रहमान म्यूजिक स्कूल की छात्रा भी रह चुकी थी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत