धनबली बाहुबली और एक्टर सबकी नजरें जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर,जाने पूरा मामला



जौनपुर। त्रिस्तरीय पंचायत के इस चुनाव में आरक्षण के दौरान जौनपुर जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी महिलाओं के लिए आरक्षित होते ही बड़ी संख्या में धनबली और बाहूबली  पत्नी के जरिए जिले के प्रथम नागरिक बनने की तमन्ना लिये पंचायत के इस चुनाव में कूद पड़े हैं तो वालीवुड के एक्टर लोग भी पीछे नहीं है। हलांकि की किसके सर सजेगा ताज यह तो भविष्य के गर्भ में है लेकिन सदस्य पद के लिए चुनाव लड़ने वाले तमाम राजनैतिक जन की नजरें अध्यक्ष की कुर्सी पर है इसलिए तो सदस्य पद पर जीत हासिल करने के लिए आयोग के नियमों को ठेंगा दिखाते हुए धन बल के साथ मतदाताओं को खरीदने का खेल भी बड़ी सतर्कता के साथ कर रहे हैं। 
बतादे कि अध्यक्ष पद की दावेदारों में शामिल श्रीकला धनन्जय सिंह रेड्डी जिले के सिकरारा विकास खण्ड स्थित वार्ड संख्या 45 से चुनावी जंग में है। हलांकि इनके पति पूर्व सांसद एवं बाहूबली नेता धनन्जय सिंह के खिलाफ पुलिस ने गिरफ्तारी के लिये अभियान चला रखा है। श्रीकला रेड्डी ने तो अपने एक बयान में इसका खुलासा भी किया है कि सदस्य पद का चुनाव जीतने के बाद अध्यक्ष पद पर दावा भी किया है।  यहां बतादे कि इसी वार्ड संख्या से पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राज बहादुर यादव अपने पत्नी राजकुमारी यादव को भी चुनाव मैदान में उतार दिये हैं। खुद राजबहादुर यादव 45 नम्बर वार्ड से सदस्य बन कर 2015 में जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर आसीन हुए थे। इसलिए यदि कहा जाये कि इस वार्ड पर राज बहादुर यादव का कब्जा रहा तो अतिशयोक्ति नहीं होगा। इस तरह लड़ाई यहां पर कांटे की बनी हुई है। हां दोनों में जो जीतेगा अध्यक्ष पद पर दावेदारी जरूर करेगा ऐसा राजनैतिक पंडित मानते हैं। 
इसी तरह सुइथाकला विकास खण्ड के वार्ड संख्या 14 से भाजपा की अधिकृत प्रत्याशी के रूप में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रही श्रीमती कमला सिंह पत्नी  स्व राम अकबाल सिंह  चुनाव मैदान सदस्य बन कर अध्यक्ष पद के लिये दावा करने की तैयारी में है। सूत्र की माने तो इन्हें भाजपा का सहयोग संभावित है। भाजपा सरकार में है इस लिये इन्हें भी कमतर नहीं आंका जा सकता है। वहीं पर इसी वार्ड संख्या से जिले के बड़े कारोबारियों में शुमार आई बी सिंह भी अपनी पत्नी शीला सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है। ये तो पहले भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी बनना चाहते थे लेकिन सफलता न मिलने पर अध्यक्ष पद की कुर्सी के लिए निर्दल प्रत्याशी के रूप में जिला पंचायत सदस्य बनने के लिए चुनाव में कूद पड़े हैं। इस तरह इन दोनों की नज़रें अध्यक्ष की कुर्सी पर है। 
जहां तक वालीवुड का सवाल है विकास खण्ड बक्शा के वार्ड संख्या 26 से दीक्षा सिंह चुनाव मैदान में है जो विश्व सुंदरी चैम्पियन सिप 2015 की रनर अप रही है। इसके साथ ही वालीवुड में  तमाम फिल्मों में काम करते हुए अपनी पहचान एक एक्टर के रूप में स्थापित किया है। इनकी भी नजर सदस्य बनने के पश्चात जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर टिकी हुई है। ये अपने फिल्मी ग्लैमर के साथ धन बल के जरिए जनपद की प्रथम महिला नागरिक बनने का सपना संजोये हुए हैं। खबर यह भी मिली है कि विकास खण्ड धर्मापुर के  वार्ड संख्या 71 से सदस्य जिला पंचायत का चुनाव लड़ रही पूनम सिंह भी जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर काबिल होना चाहती है। 
इस तरह जनपद के राजनैतिक जन इस बार महिलाओं के माध्यम से जिला पंचायत की कुर्सी पर काबिज हो कर प्रथम नागरिक बनने के लिए पंचायत के इस चुनाव में पैसा, दारू मुर्गा आदि हर रास्ते को अख्तियार कर रहे है। प्रशासन के लोग केवल कागजी आयोग की आदर्श आचार संहिता के पालन का दावा करने में जुटे हुए हैं। मतदाता बिकने को तैयार है तो प्रत्याशी खास कर अध्यक्ष बनने का सपना रखने वाले धड़ल्ले से वोटों की खरीद फरोख्त कर रहे हैं। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

स्वागत कार्यक्रम में सपाईयों के बीच मारपीट की घटना से सपा की हो रही किरकिरी

हलाला के नाम पर मुस्लिम महिला के साथ सामुहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज मौलाना फरार

मारपीट की घटना को विधायक एवं उनके समर्थको पर लूट तक का मुकदमा हुआ दर्ज