राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने यूटा को दी संबद्धता


जौनपुर। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने अब यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन (यूटा)को संबद्धता प्रदान कर दी है।यूटा जौनपुर के जिलाध्यक्ष संजय सिंह ने बताया बेसिक शिक्षा के नियंत्रणाधीन कार्यरत शिक्षकों के हित के लिए संघर्षशील शिक्षक संगठन यूटा के  प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राठौर के प्रस्ताव के क्रम में उत्तर प्रदेश राज्य संयुक्त कर्मचारी परिषद ने अब यूटा को संबद्धता प्रदान कर दी है।यूटा को परिषद से संबद्धता प्रदान करने के बाबत पत्र निर्गत करते हुए परिषद के प्रांतीय महामंत्री अतुल मिश्र ने कहा की अब प्रदेश के कर्मचारियों व शिक्षकों के हक़ की लड़ाई वे एक मंच से लड़ेंगे।उन्होंने परिषद के सभी जिलास्तरीय पदाधिकारियों से आपसी संपर्क स्थापित मंच को प्रभावी गति देने की अपील की है।यूटा के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राठौर,प्रदेश कोषाध्यक्ष बीपी बघेल व संगठन मंत्री यादवेंद्र शर्मा ने परिषद के पदाधिकारियों को आश्वस्त किया है की वे जल्द ही समस्त जिलाध्यक्षों के साथ बैठक कर सामूहिक मुद्दों पर संयुक्त लड़ाई लड़ने की योजना बनाएंगे।जिलाध्यक्षों के साथ बैठक कर सामूहिक मुद्दों पर संयुक्त लड़ाई लड़ने की योजना बनाएंगे।यूटा के जिलाध्यक्ष संजय सिंह संरक्षक डॉ मनोज वत्स,महामंत्री लक्ष्मी नारायण तिवारी,जिला कोषाध्यक्ष डॉ आशीष सिंह,वरिष्ठ उपाध्यक्ष चंद्रेश यादव,संयुक्त महामंत्री डॉ अभिषेक सिंह ,उपाध्यक्ष राय साहब सिंह ,राजकुमार सिंह, डॉ हेमंत सिंह ,संगठन मंत्री नवीन सिंह,जिला प्रवक्ता सत्य प्रकाश मिश्र,संगठन मंत्री नवीन सिंह,प्रभाकर उपाध्याय,प्रचार मंत्री मनीष यादव,लेखाकार विजय बहादुर यादव,अशोक सोनकर  व अन्य पदाधिकारियों का कहना है की शासन के कार्मिक विभाग से मान्यता प्राप्त एवम समस्त राजकीय विभागों के कर्मचारियों के हित के लिए कार्यशील राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद से संबद्धता मिलने के बाद अब यूटा एक और एक ग्यारह की स्थित में काफी मजबूती के साथ शिक्षकों की हर समस्या के लिए शासन तक संपर्क करेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

स्वागत कार्यक्रम में सपाईयों के बीच मारपीट की घटना से सपा की हो रही किरकिरी

हलाला के नाम पर मुस्लिम महिला के साथ सामुहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज मौलाना फरार

मारपीट की घटना को विधायक एवं उनके समर्थको पर लूट तक का मुकदमा हुआ दर्ज