प्रधान नाबालिग से करा रहा मनरेगा के तहत काम, जांच में वीडियो ने प्रधान बचाने का किया उपक्रम

 



जौनपुर। जनपद के तहसील शाहगंज स्थित ग्राम पंचायत सिधारी में ग्राम प्रधान द्वारा मनरेगा के तहत तालाब की खुदाई के लिए नाबालिक बच्चों द्वारा मनरेगा का कार्य कराये जाने का वीडियो वायरल होने खबर को जिला प्रशासन ने गम्भीरता से लेते हुए मामले की जांच करा रहा है इससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है। 

खबर है कि ग्राम प्रधान द्वारा मनरेगा के तहत नाबालिग से काम कराते समय ग्रामीण जन वीडियो बना लिये और उसे वायरल कर दिया वीडियो जिला प्रशासन के संज्ञान में आ गया।

वीडियो को संज्ञान में लेते हुए मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला ने खण्ड विकास अधिकारी शाहगंज से जल्द जांच कर आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिया। आदेश के क्रम में खण्ड विकास अधिकारी शाहगंज द्वारा जांच कर मुख्य विकास अधिकारी को आख्या के माध्यम से अवगत कराया कि ग्राम सिधारी में प्राथमिक विद्यालय के सामने तालाब की खुदाई का प्राक्कलन तैयार किया गया है, परंतु इस परियोजना पर कोई भी मास्टर रोल निर्गत नहीं किया गया है। साथ ही ग्रामवासियों के द्वारा व्यक्तिगत कार्य हेतु मिट्टी निकाली गई है। संदर्भित प्रकरण में मास्टर रोल निर्गत ही नहीं है जिससे उक्त तालाब में मनरेगा की धनराशि का दुरुपयोग पर परिलक्षित नहीं होता है।


इस तरह खण्ड विकास अधिकारी द्वारा ग्राम प्रधान को कागजी बाजीगरी का खेल करते हुए बचाने का प्रयास किया गया है जबकि वीडियो में स्पष्ट हो रहा है कि श्रमिक मनरेगा के तहत तालाब खोद रहें है। खण्ड विकास अधिकारी की रिपोर्ट से एक अनियमितता और सामने आयी कि बिना कागजी कोरम पूरा किये ही मौखिक रूप से श्रमिको से काम लिया गया ऐसे में मजदूरों के मजदूरी के भुगतान की समस्या उत्पन्न हो सकती है। 

Comments

Popular posts from this blog

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?

स्वामी प्रसाद मौर्य के कार्यालय में तोड़फोड़ गोली भी चलने की खबर, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

लोकसभा चुनाव के लिए सायंकाल पांच बजे तक मतदान का प्रतिशत यह रहा