विकास के दम पर 300 से अधिक सीटें जीतकर इतिहास रचेगी भाजपा सरकार : मनीष शुक्ला

 
सपा बसपा सरकार के शासन में बंधुआ बनायी गयी कानून व्यवस्था को पटरी पर लाना बड़ी चुनौती रही,आज यूपी में है कानून  का राज 

जौनपुर । भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने दावा किया कि प्रदेश की योगी सरकार क्राइम व करप्शन पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए भय मुक्त व भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश का निर्माण किया है। आज शनिवार को जनपद के मुंगराबादशाहपुर में मीडिया से वार्ता करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय पथ पर चलते हुए गांव गरीब किसान नौजवान के आर्थिक व सामाजिक विकास के लिए पूर्ण प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। सरकार के पहले निर्णय में ही 86 लाख किसानों का बैंक ऋण माफ किया गया। यह योगी सरकार जनता के प्रति की गई प्रतिबद्धता का आगाज था। 
उत्तर प्रदेश की सम्मानित जनता ने डबल इंजन सरकार के लिए जनादेश दिया और यही कारण है की उत्तर प्रदेश में आज गरीबों को आवास, शौचालय, सौभाग्य, किसान सम्मान निधि,  टीकाकरण जैसी योजनाओं में पूरे देश में अव्वल है। सपा बसपा सरकारों के समय बंधुआ बनाई गई कानून व्यवस्था को पटरी पर लाकर प्रदेश में कानून का राज स्थापित करने की बड़ी चुनौती थी, लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की निष्पक्ष कानून व्यवस्था की नीति ने प्रदेश में भयमुक्त वातावरण का निर्माण किया है।
सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए बताया कि भाजपा अपने काम व विकास के दम पर एक बार फिर 300 से अधिक सीटें जीतकर इतिहास रचेगी। उन्होंने कहा कि सरकार ने 45 लाख गन्ना किसानों का 1.40 लाख करोड़ गन्ना मूल्य का भुगतान किया। उन्होंने कहा सपा सरकार में जहां धान गेहूं की खरीदारी 2016-17 में सिर्फ 8 लाख मीट्रिक टन थी वह 2021 में बढ़कर 58.8 लाख मीट्रिक टन हो गयी। आज पीएम किसान सम्मान निधि से यूपी के 2.5 करोड़ किसानों को 32 हजार 500 करोड़ रूपये  सीधे बैंक खातों में भेजें गये। ईज आफ डूइंग बिजनेस में देश में दूसरें स्थान पर हैं। जिससे प्रदेश में निवेश बढ़ रहा है, जो रोजगार के अवसर सृजित कर रहा है।
श्री शुक्ला ने कहा कि प्रदेश में बढ़ी बुनियादी सुविधाएं, बढ़ा निवेश जैसे 05 इंटरनेशनल एयरपोर्ट,  8 एयरपोर्ट संचालित,13 अन्य एयरपोर्ट एवं 7 हवाईपट्टी का विकास किया गया । 341 किमी. लंबे पूर्वांचल एक्स्प्रेस- वे का निर्माण अंतिम चरण में है , 297 किमी. लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस- वे का निर्माण कार्य प्रगति पर और 594 किमी. लंबे गंगा एक्सप्रेस-वे के लिये 92 प्रतिशत भूमि अधिग्रहण हो चुका है । 91 किमी. लंबे गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे का कार्य प्रगति पर बलिया लिंक एक्सप्रेस-वे को मंजूरी मिली, 14 हजार 160 किमी. सड़को का चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण किया गया । 3 लाख 39 हज 698 किमी. सड़को का गड्ढा मुक्तिकरण तथा प्रदेश से जुड़ने वाले अन्य प्रदेशों/देश की सीमाओं तक जाने वाली 82 सड़को हेतु 01 हजार 759 करोड़ रुपये की लागत से 929 किमी. लम्बाई में कार्य प्रगति पर है । उन्होंने कहा कि नोएडा,लखनऊ,गाजियाबाद, कानपुर,आगरा, मेरठ,गोरखपुर, वाराणसी,प्रयागराज एवं झांसी में मेट्रो रेल परियोजना, इन्वेस्टर्स समिट में 4.68 लाख करोड़ रुपये के एमओयू हस्ताक्षरित 3 लाख करोड़ रुपये की परियोजनाएं प्रारंभ की गयी और कोरोना कालखंड में 56 हजार करोड़ रुपये के विदेशी निवेश प्रस्ताव प्राप्त है ।
उन्होंने कहा कि मिशन रोजगार के तहत 4.25 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी व  3 लाख युवाओं की संविदा पर सरकारी नियुक्ति की गई। 82 लाख एमएसएमई इकाइयों को 2 लाख 15 हज 506 करोड़ रुपये का ऋण वितरित कर लगभग 2 करोड़ लोंगो को रोजगार दिया गया । उन्होंने कहा कि एक जनपद-एक उत्पाद योजना में 25 लाख लोगों को रोजगार, बड़ी औधोगिक इकाईयों में 3 लाख से अधिक लोंगो को रोजगार, स्टार्टअप नीति के अंतर्गत 5 लाख युवाओं को रोजगार, अन्य राज्यों से अपने प्रदेश वापस आए 40 लाख से अधिक श्रमिकों/कामगारों को रोजगार, 1.50 करोड़ से अधिक श्रमिकों को मनरेगा में रोजगार,  58 हजार 758 महिलाएं बैंकिग सखी के रूप में चयनित, 10 लाख स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से 1 करोड़ महिलाओं को रोजगार दिया गया । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह में 1.52 लाख से अधिक कन्याओं का विवाह कराया गया, 1.47 करोड़ परिवारों को उज्वला योजना में मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना से 7.60 लाख बेटियां लाभान्वित हुई , बालिकाओं को स्नातक स्तर तक निःशुल्क शिक्षा दी जा रही है । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना में 40 लाख माताएं लाभान्वित हुए,  90 लाख वृद्धजन, दिव्यांगजन,विधवा एवं निराश्रित महिलाओं को 500 रुपये मासिक पेंशन दी जा रही है ।
ऊर्जा के क्षेत्र में वर्ष 2012 से 2017 की तुलना में वर्ष 2017 से 2021 में रिकॉर्ड 121324 मजरे विधुतीकृत किये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 2012 से 2017 की तुलना में वर्ष 2017 से 2021 में उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में ऊर्जा आपूर्ति में 42% की समग्र वृद्धि प्राप्त की गयी है। वर्ष 2017 से 2021 में औसत ऊर्जा की आपूर्ति में 53% की वृद्धि हो गयी है। वित्तिय वर्ष 2021-22 में समग्र पारेषण क्षमता में 71.2% की वृद्धि दर्ज की गयी है। उन्होंने कहा कि 33/11 के0वी0 उपकेंद्रों पर वोल्टेज में सुधार हेतु 1445 नग कैपेसिटर बैंक स्थापना व ऊर्जीकरण का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन का आंकड़ा 07 करोड़ 69 लाख 93 हजार के पार हो चुका है। यह देश के किसी एक राज्य में हुआ सर्वाधिक टीकाकरण है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत