जर्जर सड़क पर ट्रक ने छात्र को रौंदा,ग्रामीणो ने किया चक्का जाम, पुलिस ने की विधिक कार्यवाई


जौनपुर। जनपद के थाना रामपुर स्थित पचवल के पास आज गुरुवार सुबह एक दुखद दुर्घटना हो गई। गांव में सड़क खराब होने के कारण विद्यालय पढ़ने जा रहा 14 वर्षीय एक किशोर की ट्रक की चपेट में आ जाने से गंभीर रूप से घायल हो गया जिसको इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया है।

किशोर की मृत्यु की खबर से गुस्साए ग्रामीणों ने जौनपुर भदोही एन एच हाईवे मार्ग को जाम कर दिया। मौके पर पुलिस प्रशासन ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए जाम को हटाने की हिम्मत नहीं कर पा रही है। ग्रामीण पीडब्ल्यूडी विभाग के एक्सियन को मौके पर बुलाने की मांग पुलिस से कर रहे हैं। यहां बता दे कि सड़के इतनी जर्जर हो गयी है कि हर समय मौत को दावत दे रही है लेकिन जिम्मेदारो की सेहत पर कोई असर नहीं है।


खबर हैं कि भदोही जनपद के धौरहरा गांव निवासी मुलाली दुबे का 14 वर्षीय पुत्र हरिओम दुबे साइकिल से जौनपुर जनपद के पचवल गांव स्थित अवध नारायण शिक्षण संस्थान में पढ़ने के लिए सुबह 8:00 बजे आ रहा था। विद्यालय के पास अभी पहुंचा ही था कि जौनपुर की तरफ से तेज रफ्तार से भदोही की तरफ जा रही अनियंत्रित ट्रक ने बालक को धक्का मार दिया, बालक साइकिल सहित सड़क पर गिर गया और ट्रक उसको कुचलती हुई आगे निकल गई। जिसके बाद ग्रामीणों ने दौड़ा कर ट्रक को पकड़ लिया। ग्रामीणों का कहना है कि ट्रक खलासी चला रहा था और ड्राइवर सो रहा था।


जिसके बाद भदोही जौनपुर मार्ग जाम कर दिया और घायल बालक को इलाज के लिए भदोही के एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया है, जहां उसकी मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ट्रक एवं खलासी को कब्जे में लेकर थाने भिजवाया और ग्रामीणों से सड़क जाम कर रहे लोगों से जाम खोलने का अनुरोध किया।

लेकिन गुस्साए ग्रामीणों ने नारेबाजी करते हुए पीडब्ल्यूडी विभाग के एक्सईएन को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे हैं। मौके पर रामपुर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर विजय शंकर सिंह और सुरेरी थाने की पूरी फोर्स के साथ ग्रामीणों को समझाने बुझाने का प्रयास कर रहे हैं।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

महज 20 रूपये के लिए रेलवे से लड़ा 22 साल मुकदमा और जीता,जानें क्या है मामला