पति ने पत्नी का गला रेत कर किया हत्या, पुलिस विधिक कार्यवाई करने के बजाय करा रही समझौता


जौनपुर।  जिले के  थाना मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र स्थित भंडरिया टोला में बीती रात एक महिला की उसके अपने पति ने चाकू घोंपकर मौत के घाट उतार दिया। घटना की खबर आज दोपहर मायके वालों को पहुंचने के बाद तब पुलिस को हुई जब मायके वालों ने सूचना दिया।
खबर है कि मड़ियाहूं कोतवाली के भंडरिया टोला निवासी इस्लाम पुत्र समीउल्लाह नगर पंचायत में प्राइवेट सफाईकर्मी है। बीती रात 11:00 बजे के आसपास इस्लाम शराब के नशे में धुत होकर घर आया तो पत्नी रुखसार शराब पीकर घर आने पर विरोध किया। पति को पत्नी की बात नागवार लगी और अपना आपा खो बैठा। घर के अंदर सब्जी काटने वाले चाकू से उसके गले पर वार कर दिया और वह वहीं गिर कर लहूलुहान हो गई।उसके बाद पति ने घर के अंदर ही बिना किसी को बताए पत्नी को तब तक रखे रहा जब तक उसकी मौत नहीं हो गयी।हलांकि रात में ही पति इस्लाम ने अपने ससुराल मोढ़ बढ़दहवा जिला भदोही मृतक रुखसार के बड़े पिता मोहम्मद अमीन को घटना की सूचना दिया। आज दोपहर पहुंचे मृतक के बड़े पिता ने शव को देखा तो बताया कि उसके गले में चाकू मारी गई है। जिससे उसकी मौत हो गई है। मृतक के बड़े पिता की सूचना पर मड़ियाहूं कोतवाली के एसएसआई घनश्याम शुक्ला मय फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और शव को कब्रिस्तान ले जाने की तैयारी कर रहे परिजनों को रोका। पुलिस ने मृतक के परिजनों एवं मायके से पहुंचे बड़े पिता और पति को साथ थाने ले आए। थाने पर पहुंचे मृतक के पिता मोहम्मद हनीफ ने बताया कि मेरे मरहूम भाई की बेटी को उसके ही पति ने चाकू मारकर मौत के घाट उतार दिया है। लेकिन मृतक के परिवार में कोई देखरेख करने वाला जिम्मेदार व्यक्ति नहीं है। जिसके कारण हम लोग कोई कार्रवाई नहीं चाहते हैं। पुलिस ने विधिक कार्यवाई नहीं किया है। पुलिस ने बताया कि अभी सुलह समझौता की बात दोनों पक्षों में चल रही है। खबर यह है कि इस अपराधिक घटना को स्वत: संज्ञान लेकर अभियुक्त के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय पुलिस समझौता कराने में जुटी है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन