ममता वनर्जी को वाराणसी आने से भाजपा में बढ़ी घबराहट - अखिलेश यादव


जौनपुर। यूपी विधानसभा चुनाव में सातवें चरण के चुनाव प्रचार के लिए समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ताबड़तोड़ जनसभाएं कर रहे है। इसी क्रम में आज गुरुवार को दूसरे दिन भी जौनपुर पहुंचे और केराकत विधानसभा क्षेत्र के तरियारी में आयोजित जनसभा में भारतीय जनता पार्टी पर जमकर बरसे।
उन्होंने कहा कि हमारे समर्थन में वाराणसी पहुंचीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को देखकर भाजपा वाले घबराए हुए हैं। वहां आज ममता बनर्जी के साथ ऐतिहासिक कार्यक्रम हुआ है।  लग रहा है कि बनारस वाले इस बार भाजपा के झूठ का रस निकाल देंगे।
अखिलेश ने कहा कि भाजपा के लोग इतना घबराए हैं कि ममता बनर्जी को काला झंडा दिखाए।  वे जैसे ही ममता बनर्जी को देखते हैं तो उन्हें बंगाल की हार याद आ जाती है। अखिलेश यादव ने आगे कहा कि धरती पर इतना झूठ बोलने वाला कोई दल नहीं होगा, जितना भाजपा के लोग बोलते हैं।
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की सरकार में  महंगाई बढ़ गई। डीजल-पेट्रोल के दाम आसमान पर हैं। समय पर किसानों को खाद नहीं मिला। खाद मिली भी तो पांच किलो की चोरी हो गई। जैसे डीएपी नहीं मिली वैसे ही चुनाव के बाद भाजपा भी नहीं दिखाई देगी। यूपी और जौनपुर की जनता इस बार भाजपा  को माफ नहीं बल्कि पूरा साफ कर देगी।
उन्होंने कहा कि कल ही स्वामी प्रसाद के साथ बहुत बड़ा धोखा हुआ। उनके काफिले पर हमला हुआ था। ये हमला इसलिए हुआ कि पिछड़े दलित सब एक हो गए हैं। इसके पहले वाराणसी में ओम प्रकाश राजभर जब नामांकन करने गए थे उनपर भी भी हुआ था। जो घबराए हुए होते हैं, वो जल्द आपा खो देते हैं।
 सपा प्रमुख ने कहा कि लग रहा है कि समाजवादी पार्टी जौनपुर की सभी सीटें जीतने जा रही है। पिछले तीन साल से कोई भर्ती नहीं हुई है। नौजवान भर्ती होकर वर्दी पहनकर देश की सेवा करना चाहता है। हमारी सरकार सत्ता में आई तो  भर्ती निकाली जाएगी। सपा की सरकार आएगी तो बीएड और टेट, बीपीडीए को भी नौकरी देने का काम किया जाएगा, जो लोग गर्मी निकालने की बात कर रहे थे, उनकी भाप निकालने का काम करेंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन