डीएम ने विकास खण्ड बदलापुर के निरीक्षण के दौरान जानें क्या दिया शख्त आदेश


जौनपुर । जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के द्वारा कार्यालय खंड विकास अधिकारी बदलापुर का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान विभिन्न पटलों का विस्तृत निरीक्षण किया गया। 
उन्होंने खंड विकास अधिकारी शरद कुमार श्रीवास्तव को निर्देश दिया कि सचिवों का रोस्टर जारी किया जाए और रोस्टर ब्लॉक एवं गांव के सचिवालय में लिखवाया जाए। सचिव सचिवालय में बैठ रहे हैं कि नहीं उसकी क्रास चेकिंग भी कराई जाए। 
जिलाधिकारी ने कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका एवं जीपीएफ पासबुक देखी और निर्देश दिया कि प्रतिमाह पुस्तक अपडेट किया जाए। आईजीआरएस की लंबित शिकायतों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि शिकायतकर्ता से वार्ता अवश्य की जाए और फीडबैक क्या मिला है उसे रजिस्टर में अवश्य अंकित किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि शिकायतकर्ताओं को विकासखंड स्तर पर ही शिकायतों का समाधान कर उन्हें संतुष्ट किया जाए ताकि वे जनपद मुख्यालय पर न आए।  ब्लॉक में ग्रान्ट रजिस्टर के निरीक्षण में पाया कि 02 करोड़ 33 लाख रुपया अवशेष है जिस पर खंड विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि तत्काल कार्य योजना बनाकर कार्य कराए जाएं। जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न विभागों के द्वारा चलाई जा रही लाभार्थीपरक योजनाओं की बुकलेट तैयार की जाए और लाभार्थियों का नाम उसमें अंकित किया जाए। 
 जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न विभागों के द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में विकासखंड में पेंटिंग कराई जाए, होर्डिंग लगाई जाए ताकि उन्हें योजनाओं के बारे में अधिक से अधिक जानकारी हो सके। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि शत-प्रतिशत सचिवालय सक्रिय रहे वहां पर लेखपाल, सचिव, आशा, आंगनवाड़ी रोस्टर के हिसाब से बैठे और गांव वालों की समस्याओं को सुने और उनका निस्तारण कराएं। जन सेवा केंद्र के द्वारा लिए जाने वाले रेट लिस्ट चिपकाए जाएं। उन्होंने कहा कि सामुदायिक शौचालय शत-प्रतिशत सक्रिय रहे और प्रतिदिन सूचना ली जाए कि कितने लोग शौचालय का प्रयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति खुले में शौच करता हुआ न मिले। 
जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि कोई भी व्यक्ति गाय न छोड़े और छोड़ने वालों के विरुद्ध जुर्माना लगाने की कार्यवाही की जाए। जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि अच्छा कार्य करने वाले तीन समूहों का नाम ब्लॉक में लिखवाए ताकि अन्य लोग भी प्रेरित हो। उन्होंने कहा कि गांव में ही बिजली के बिल जमा हो जाए इसके लिए व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। 
 इसके उपरांत जिलाधिकारी के द्वारा ग्राम पंचायत मुरादपुर कोटिला में बने खेल के मैदान का निरीक्षण किया। मौके पर वालीबॉल कोर्ट तैयार मिला। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि मैदान के किनारे-किनारे रनिंग ट्रैक बनाया जाए, ओपन जिम और छायादार वृक्ष लगाए जाए। ग्रामीणों द्वारा अवगत कराया गया कि खेल मैदान का उपयोग रात्रि में भी किया जाता है जिस पर जिलाधिकारी द्वारा खंड विकास अधिकारी शरद श्रीवास्तव को निर्देशित किया कि खेल मैदान में सोलर लाइट लगाई जाए।
ग्राम पंचायत भोसिला में बन रहे बंन्धा का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान निर्देशित किया कि बन्धे के किनारे-किनारे रनिंग ट्रेक एवं खेल का मैदान बनाया जाए। रोजगार सेवक को निर्देशित किया कि प्रतिदिन 400 से 500 मजदूर लगाकर तेजी से कार्य कराएं। गांव के प्रवेश द्वार पर बोर्ड लगाए जाने के निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिए गए। गांव के रास्ते को ठीक कराने हेतु भी निर्देश दिया गया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन