योग को जीवनशैली का हिस्सा बनाएः प्रो. निर्मला एस. मौर्य



अमृत योग सप्ताह का मुक्तांगन परिसर में हुआ शुभारंभ

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के मुक्तांगन परिसर में खेलकूद परिषद, राष्ट्रीय सेवा योजना, रोवर्स रेंजर एवं मिशन शक्ति के संयुक्त तत्वावधान में सोमवार को अमृत योग सप्ताह का उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने किया।

इस अवसर पर कुलपति प्रो. मौर्य ने कहा कि अमृत योग सप्ताह उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश पर मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा की भागमभाग की दुनिया में स्वास्थ्य विश्व की सबसे बड़ी चुनौती है, इसलिए योग को अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनाएं। इसे न केवल उस दिन बल्कि अपने जीवन में इसे हर दिन अपनाएं और स्वास्थ्य को बेहतर बनाएं।

इस अवसर पर आर्ट आफ लिविंग बेंगलूरू के योग प्रशिक्षक ई. अंकुशजी ने कहा कि योग व्यक्ति में आत्मविश्वास पैदा करता है। उन्होंने तितली आसन, शवआसन, सूर्य नमस्कार, नाड़ी शोधन, ताड़ आसन समेत कई आसनों को कराया। इसके पूर्व सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्जवलित कर समारोह का शुभारंभ किया गया। यह कार्यक्रम सुबह पौने छह बजे से शुरू हुआ। योग प्रशिक्षक के साथ सहायक के रूप में विकासजी थे।   
इस अवसर पर कुलसचिव महेंद्र कुमार, सहायक कुलसचिव अमृत लाल, बबिता सिंह, डा. लक्ष्मी प्रसाद मौर्य, प्रो. बीबी तिवारी, प्रो. अजय प्रताप सिंह, प्रो. रजनीश भास्कर, डा. जाह्नवी श्रीवास्तव, डा. मनोज कुमार पांडेय, एनएसएस समन्वयक डा. राकेश यादव, डा. सुनील कुमार, डा. गिरधर मिश्र, डा. अवध बिहारी सिंह, डा. धीरेंद्र चौधरी, डा.पुनीत धवन, डा. दिव्यंदु मिश्र, डा.आलोक वर्मा, डा. इंद्रेश कुमार, मनमोहन भट्ट, अरूण शर्मा, पंकज सिंह, सुशील प्रजापति, धीरज श्रीवास्तव, अशोक सिंह, रजनीश सिंह, राजेश सिंह, आदर्श अरूण आदि शामिल थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी