प्रदेश में हो रहा है शिक्षकों के साथ सौतेला व्यवहार: अरविंद शुक्ला


जौनपुर । आज उत्तरप्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की एक बैठक जिलाध्यक्ष अरविंद शुक्ला की अध्यक्षता में कचहरी स्थित कैंप कार्यालय में सम्पन्न हुई । बैठक में शिक्षकों के लिए प्रस्तावित दोहरे मापदंड वाले कैशलेस चिकित्सा पालिसी को लेकर पदाधिकारियों द्वारा आक्रोश व्यक्त किया गया। प्रस्तावित कैशलेस योजना पर आक्रोश व्यक्त करते हुए उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष अरविंद शुक्ला ने कहा कि कैशलेस चिकित्सा का आशय बिना कैश खर्च किए चिकित्सा सुविधा से है परंतु शिक्षकों को दी जा रही कैशलेस चिकित्सा का अभिप्राय रु0 18000 से 76000 प्रीमियम वाला स्वास्थ्य बीमा है, जो कि कैशलेस चिकित्सा के नाम पर शिक्षकों के साथ एक मजाक है । शिक्षक इस पालिसी को कभी स्वीकार नहीं करेंगे । श्री शुक्ल ने कहा कि सरकार जहां राज्य कर्मचारियों के लिए निशुल्क कैशलेस चिकित्सा देने की बात कर रही है वहीं दूसरी तरफ शिक्षकों से कर्मचारियों की भांति कार्य तो ले रही है परंतु निशुल्क कैशलेस चिकित्सा देने के नाम पर दोहरा मापदंड अपना रही है । माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा निशुल्क चिकित्सा की घोषणा की गई थी और माननीय मुख्यमंत्री जी को ऐसे दोहरे मापदंड वाले कैशलेस पालिसी का संज्ञान लेना चाहिए । प्रदेश में सभी शिक्षक कर्मचारियों को एक प्रकार की कैशलेस चिकित्सा सुविधा सबको मिलनी चाहिए ।
बैठक में जिलामंत्री रविचंद्र यादव,रामदुलार यादव,लक्ष्मीकांत सिंह,धीरेंद्र सिंह,लालसाहब यादव, प्रमोद दुबे,संतोष सिंह,विष्णु तिवारी, डा0 उषा सिंह, राकेश पांडेय,राघवेंद्र मिश्र, योगेंद्र मौर्य,शैलेंद्र पाल सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर