भारी बारिश से कच्चा मकान ढहा एक महिला की मौत, एसडीएम ने सरकारी सहायता का किया वादा

जौनपुर। तीन दिनों से लगातार हो रही वर्षात के कारण अब जिले में गरीब परिवारो के कच्चे घरो को गिरने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। ऐसे ही एक दुर्घटना में एक महिला की मलवे में दबकर मौत हो गई। घटना की खबर वायरल होने के बाद राजस्‍व विभाग की टीम के साथ ही पुलिस टीम ने भी मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया और पीड़‍ित परिवार के मदद का आश्‍वासन दिया। वहीं शव को क‍ब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेजते हुए अन्य विधिक कार्यवाई की है।
मिली जानकारी के सरपतहां थाना क्षेत्र के गैरवाह गांव के रकबा मजरे में रात तेज बारिश के चलते एक कच्चे मकान का एक हिस्सा भरभरा कर रात्रि पहर में गिर गया। रात में उसमें दबकर नीचे मौजूद महिला की मौत हो गई। वहीं हादसे की जानकारी के बाद सूचना मिलने पर सुबह राजस्व विभाग तथा पुलिस की टीम गांव में पहुंची और आवश्यक कार्रवाई पूरी की।


गांव निवासी राम मूरत राजभर कच्चे मकान में पत्नी मीना व दो बच्चों के साथ रहते हैं। मकान काफी जर्जर व पुराना था। रात में भी रोजाना की तरह भोजन के पश्चात मकान में सोए हुए थे। आधी रात के बाद जिस हिस्से में वे सपरिवार सो रहे थे वह हिस्सा अचानक भरभराकर ढह गया। जिसके मलबे में उनकी 40 वर्षीया पत्नी मीना दब गईं।
हादसे के बाद चीख -पुकार सुनकर मौके पर ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठा हो गई और काफी मशक्कत के बाद किसी तरह मीना को बाहर निकाला गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। राममूरत की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर है। मजदूरी आदि से ही उसका उसके परिवार का गुजर-बसर होता है।
इस घटना के बाद उप जिलाधिकारी नीतीश कुमार का कथन है कि मृतका के परिवार को राज्य आपदा सहायता योजना के तहत चार लाख रुपये की सहायता राशि के आलावा मुख्यमंत्री आवास योजनांतर्गत तत्काल आवास उपलब्ध कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। हर संभव सहायता पीड़ित परिवार को दी जायेगी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मौसम विभाग का एलर्ट इन 23 जिलो में हवाओ के साथ होगी बरसात

दुर्गा पूजा पंडाल में लगी आग छ: की मौत 50 से अधिक झुलसे सभी बीएचयू ट्रामा सेंटर रेफर

खाकी वर्दी में घूम रहा नकली फर्जी, जालसाज इंस्पेक्टर गिरफ्तार, लड़क‍ियों की श‍िकायत