तदर्थ शिक्षको की सेवा के मामले में शिक्षक संघ की बैठक में शासन और विभाग की मनमानी के खिलाफ कोर्ट जानें पर बनी सहमति



जौनपुर। उ.प्र. माध्यमिक शिक्षक संघ ‘सेवारत’ की एक आवश्यक बैठक आज 2 दिसम्बर को टी.डी. इण्टर कालेज, जौनपुर में प्रदेश अध्यक्ष रमेश सिंह एवं उपाध्यक्ष डा. राकेश सिंह की उपस्थिति में जिलाध्यक्ष तेरस यादव की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी।
बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष रमेश सिंह ने कहा कि 9 नवम्बर 2023 को प्रमुख सचिव माध्यमिक दीपक कुमार द्वारा निर्गत आदेश के क्रम में माध्यमिक शिक्षा निदेशक द्वारा जारी पत्र 10 नवम्बर 23 के माध्यम से 7 अगस्त 1993 से 2000 के बीच नियुक्त तदर्थ शिक्षकों की सेवा मनमाने ढंग से समाप्त कर दी गयी है। 
सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 16-इ (11) के अन्तर्गत नियुक्त शिक्षकों के मामले में ही निर्णय लिया गया है। शासन और विभाग की इस मनमानी को न्यायालय ने चुनौती देने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। इसलिए आप सभी मानसिक रुप से इसके लिए तैयार रहेें।
प्रान्तीय उपाध्यक्ष डा. राकेश सिंह ने कहा कि कोई भी शिक्षक साथी सेवा से नहीं हटाया जा सकता है। संगठन आपको विश्वास दिलाता है। बस आप विश्वास और हौसला बनाये रखिये। मण्डल अध्यक्ष सरोज सिंह ने कहा कि इस मामले में यथाशीघ्र न्यायालय की शरण ली जाय। जिलाध्यक्ष तेरस यादव ने सभी तदर्थ शिक्षकों का आह्वाहन किया कि एकजुट रहते हुए हर संघर्ष के लिए सदैव तैयार रहें।
बैठक को कार्यकारी अध्यक्ष अतुल सिंह , जिला उपाध्यक्ष राकेश सिंह, दयाशंकर यादव, वीरेन्द्र सिंह, मो0 आजम खां, कोषाध्यक्ष सै0 हसन सईद, अरविन्द सिंह सहित सैकड़ो शिक्षकों ने सम्बोधित किया। बैठक का सफल संचालन जिलामंत्री ठाकुर प्रसाद तिवारी द्वारा किया गया।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद