समाज विकास क्रांति पार्टी के प्रत्याशी ने डीएम कार्यालय का किया घेराव प्रशासन भेदभाव का आरोप अपने हत्या की जताई संभावना


जौनपुर। समाज विकास क्रांति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं 73 लोकसभा जौनपुर से प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे अशोक सिंह बड़ी तादाद में अपने समर्थको के डीएम कार्यालय काफी समय तक घेराव कर आदर्श आचार संहिता का पालन जिला प्रशासन द्वारा न करने का आरोप लगाते हुए कहा कि जिला प्रशासन भाजपा के लिए काम करते हुए उसी के लिए व्यस्त है। 
हलांकि डीएम ने पहले अशोक सिंह से मुलाकात करना सायद जरूरी नहीं समझा इसलिए तो उन्होंने नगर मजिस्ट्रेट को भेजा ज्ञापन पत्र लेने के लिए। नगर मजिस्ट्रेट से वार्ता करते हुए अशोक सिंह ने कहा आयोग का निर्देश है सिम्बल जारी होने के साथ प्रत्याशी के सुरक्षा की व्यवस्था की जाए लेकिन हमको अभी तक सुरक्षा नही मिली प्रशासन क्या हमारी हत्या करवाना चाहता है। डीएम हमारी बात क्यों नहीं सुन रहे है।
अब तो बड़ा सवाल खड़ा हो गया है कि जौनपुर में निष्पक्ष चुनाव हो पायेगा अथवा नहीं, हम तो बाबासाहब भीमराव अम्बेडकर के कानून को मानता हुं और चुनाव लड़ने आया हूँ। सीएम ने समय की बात किया तो आशोक विफरे और कहा कि हमे लिखित दे दीजिए हमें कुछ होगा तो प्रशासन जिम्मेदार होगा।साथ यह भी कहा कि आप किसके साथ बीजी है भाजपा के साथ।  उन्होंने भाजपा के लोगो पर आरोप लगाया कि भाजपाई उनके साथ धक्का मुक्की करते है हमारे सुरक्षा का प्रबंध नहीं हमारी हत्या हो सकती है।
प्रदर्शन कर रहे समाज विकास क्रान्ति पार्टी के कार्यकर्त्ताओ ने कलेक्ट्रेट में भारी संख्या में  पुलिस प्रशासन और  जिला प्रशासन के खिलाफ नारे बाजी किया। अशोक सिंह मीडिया से बात करते हुए आरोप लगाया कि अभी तक हमें सुरक्षा के लिए कोई पुलिस कर्मी नहीं दिया गया है।

अगर मुझे कुछ हो जाता है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा। उन्होंने कई गंभीर आरोप भाजपा प्रत्याशी पर लगाया है। लम्बी जद्दोजहद और प्रदर्शन के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक सिंह को बुलाकर ज्ञापन लिया और आश्वासन दिया कि जल्द ही सुरक्षा कर्मी दिया जाएगा। इसके बाद अशोक सिंह अपने समर्थको के साथ वापस लौटे। समाज विकास क्रान्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं जौनपुर संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे अशोक कुमार सिंह के आरोप और प्रदर्शन आदि से इतना तो संकेत मिल रहा है कि जिला प्रशासन के अन्दर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। अन्दर खाने में कुछ न कुछ खेल जरूर संभावित है।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर और मछलीशहर (सु) लोकसभा में जानें विधान सभा वारा मतदान का क्या रहा आंकड़ा,देखे चार्ट

मतगणना स्थल पर ईवीएम मशीन को लेकर हंगामा करने वाले दो सपाई सहित 50 के खिलाफ एफआईआर

आयोग और जिला प्रशासन के मत प्रतिशत आंकड़े में फिर मिला अन्तर