जनपद कोरोना मुक्ति का देख रहा था सपना कि तीन मरीज एक साथ मिलते ही सपना हुआ चूर

 
 जौनपुर।  जनपद में विगत 4 मई तक मिले 9 कोरोना  मरीजों में  8 मरीजों को ठीक होकर अपने घर चले जाने पर जनपद वासियों सहित प्रशासन भी राहत महसूस करते हुए शेष बचे एक मरीज को ठीक होते ही जनपद को कोरोना मुक्त होने का सपना देख ही रहा था  कि  आज 11मई को एक साथ तीन व्यक्तियों को कोरोना संक्रमण से संक्रमित होने की खबर ने सभी की आशाओं पर पानी फेर दिया है। 
आज मिले तीनों मरीज मुम्बई से संक्रमित होकर जनपद में आये हुए है । अब एक बार पुनः जिला प्रशासन सतर्क हो कर कोरोना मुक्त होने के प्रयास में लगा है। 
सीएमओ रामजी पाण्डेय ने अधिकृत रूप से बताया है कि जनपद के दक्षिणान्चल में स्थित रामनगर विकास खण्ड के ग्राम छंगापुर निवासी बृजेश यादव  पुत्र  छोटे लाल  25 साल अपने दो साथियों आनन्द  एवं संदीप के साथ मोटरसाइकिल से मुम्बई स्थित गोरेगांव से अपने घर आया सैम्पल लेकर जांच हेतु भेजा गया था तो बृजेश यादव कोरोना पाजिटिव पाया गया है।  इसके अलावां इसी क्षेत्र के संजय पटेल निवासी लखापुर भी मुम्बई स्थित घाटकोपर से अपने घर लौटा था इसकी भी जांच रिपोर्ट पाजिटिव आयी है। इसी क्षेत्र के रामपुर विकास खण्ड के ग्राम घाघरपुर पृथ्वीपुर निवासी सत्यम सिंह  मुम्बई के अंधेरी इस्ट से कई लोगों के साथ अपने घर आया था सैम्पल जांच में सत्यम की रिपोर्ट पाजिटिव आयी है। 
तीनों को आइशोलेसन में रखते हुए उपचार शुरू कर दिया गया है।  सीएमओ ने कहा कि कोई घबराने की बात नहीं है उपचार से ठीक हो जायेगे। साथ ही जिला प्रशासन ने जनपद की जनता से अपील किया है कि जनता लाक डाऊन के नियमों का पालन करते हुए शोसल डिस्टेन्सिंग बनाये रखें। कोरोना भागेगा देश जीतेगा । हलांकि अब जिला प्रशासन ने जिले के सभी थानेदारो को आदेश दिया है कि वह गांवो का भ्रमण करें और महानगरों से आने वालो को क्वारंटाइन कराये खास कर मुम्बई, गुजरात,  दिल्ली  कोलकता, अहमदाबाद, हैदराबाद से आने वालों पर विशेष नजर रखी जाये। आदेश का कड़ाई से पालन किया जाये किसी तरह की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।  
यहाँ बतादे कि पिछले दिनों जौनपुर में मिले कोरोना संक्रमित  मरीजों को ठीक होने की रिपोर्ट पर प्रशासन स्वास्थ्य विभाग सहित जनता भी राहत महसूस कर रही थी। लेकिन नये तीन केश मिलते ही एक बार फिर जिला दहशत के साये में आ गया है । वर्तमान में सबसे गम्भीर समस्या यह है कि बाहर महानगरों से आने वाले लोग ट्रकों में भूंसे की तरह भर कर अपने घरों को लौट रहे जो कोरोना के नजरिए से बेहद ही खराब मना जा रहा है ।इनसे संक्रमण फैलने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद