पति की दूसरी शादी से आहत धरने पर बैठी पत्नी, न्याय मिलने तक चौखट से न हटने का किया एलान


जौनपुर। पति की दूसरी शादी आहत पहली पत्नी अब पति के घर की चौखट पर धरने पर बैठने को मजबूर हो गयी है। हलांकि शादी रुकवाने के लिए पत्नी ने पहले थाने से गुहार लगाई फिर गत शनिवार की शाम से ससुराल की चौखट पर धरना देने बैठ गई। उसकी जिद है कि जब तक न्याय नहीं मिलेगा यहां चौखट से नहीं हटेगी, चाहे उसकी जान चली जाए। मामला जौनपुर जिले के जफराबाद थाना क्षेत्र स्थित कस्बा जफराबाद के मुहल्ला शेखवाड़ा का है। महिला और परिजनों के द्वारा धरना दिए जाने की चर्चा पूरे क्षेत्र में है। 
धरने पर बैठी महिला के मुताबिक उसकी शादी 2016 में शादी हुई थी। शादी के एक साल बाद किसी बात को लेकर शौहर के परिवार वालों से कहासुनी होने लगी। इसके बाद वह अपने मायके में जाकर रहने लगी। वह पति के घर जाने के लिए कोर्ट में मुकदमा भी लड़ रही है। दूसरी तरफ उसका पति उससे फोन पर यह कहता था कि वह उसे वापस ले जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार दोनों परिवार जफराबाद कस्बे के शेखवाड़ा मुहल्ले के निवासी है। 
शनिवार की सुबह अचानक किसी ने बताया कि उसका शौहर दूसरी शादी करने जा रहा है। यह जानकारी होते ही वह भाग कर ससुराल पहुंची, लेकिन तब तक उसका शौहर दूसरी शादी करने आजमगढ़ के दीदारगंज के लिए रवाना हो चुका था। फिर महिला बदहवास हालत में थाने पर पहुंची। प्रार्थना पत्र देकर अपने पति की दूसरी शादी रुकवाने गुहार लगाई। उसकी हालत देखकर थानाध्यक्ष ने मदद का आश्वासन दिया।
लेकिन वे उसके शौहर की तलाश नहीं कर सके। महिला अपने परिजनों के साथ वापस ससुराल पहुंची और धरने पर बैठ गई। पीड़िता ने  इंसाफ मिलने तक धरने पर बैठे रहने की घोषणा की। इस संबंध में थानाध्यक्ष योगेंद्र सिंह ने बताया कि महिला ने थाने पर प्रार्थना पत्र दिया है। तहरीर के आधार पर मुकदमा भी दर्ज किया गया है और मौके पर पुलिस भेजकर जांच कराई गई। मौके पर कोई नहीं मिला। महिला यह नहीं बता पा रही है कि बरात कहां गई है, फिलहाल अभी जांच चल रही है। हलांकि पुलिस यह भी कह रही है कि किसी तरह की गिरफ्तारी के लिए कानून की बाधा आ रही है क्योंकि जिस धारा में मुकदमा दर्ज है उसमें 7 साल से कम की सजा का प्रावधान है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम