नीट सॉल्वर गैंग के ये पांच वांछित भगोड़ा घोषित, संपत्ति होगी जब्त, अब तक इन 14 आरोपियों की हो चुकी है गिरफ्तारी


नीट सॉल्वर गैंग में वांछित पांच आरोपियों को भगोड़ा घोषित करते हुए उनकी संपत्ति जब्त की जाएगी। इन पर इनाम भी घोषित किया जाएगा। वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस ने इस दिशा में कार्रवाई तेज कर दी है। वांछित आरोपियों की संपत्ति जब्त करने के लिए नोटिस जारी किया गया है।
इनकी गिरफ्तारी के लिए संबंधित जिलों और राज्यों से कमिश्नरेट पुलिस ने संपर्क किया है। पुलिस की टीमें आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही हैं। पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने बताया कि बलरामपुर तुलसीपुर थाना अंतर्गत तुलसी बाजार पुरवा नई बाजार निवासी वांछित डॉ. अफरोज का हालपता लखनऊ कैसरबाग स्थित गुडलक स्क्वायर अपार्टमेंट है।
आजमगढ़ मुबारकपुर थाना अंतर्गत सरैया निवासी मुंतजिर, बंगलूरू बगलगुनते थाना अंतर्गत मेन लेख रोड अवनाव न्यू पार्षद बिल्डिंग का रहने वाला आशुतोष राज, त्रिपुरा के गोमती उदयपुर स्थित राधेकिशोरपुर निवासी दिव्य ज्योति नाग, त्रिपुरा गोमती उदयपुर ककराबन थाना अंतर्गत गर्जनमोरा निवासी मृत्युंजय देवनाथ का हाल पता बरदोवाली मिलन सादा थाना एडी नगर अगरतला पश्चिम त्रिपुरा है।
इन सभी को भगोड़ा घोषित करते हुए न्यायालय ने संपत्ति जब्त करने की नोटिस जारी किया है। इनके जिलों और राज्यों की पुलिस से भी संपर्क साधकर कार्रवाई में सहायता की मांग की गई है। पुलिस आयुुक्त ने बताया कि नीट सॉल्वर गिरोह में मास्टरमाइंड पटना निवासी पीके सहित 14 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

डॉक्टर सहित 20 आरोपी चल रहे हैं फरार

विवेचनाओं में आरोपियों के नामों का खुलासा होता जा रहा है, पांच भगोड़ा आरोपियों सहित अब तक 20 आरोपी चिह्नित हुए हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें गठित की गई हैं। 12 सितंबर 2021 को सारनाथ स्थित परीक्षा केंद्र पर नीट सॉल्वर गैंग की सदस्य जूली कुमारी और परीक्षा केंद्र के बाहर उसकी मां बबिता कुमारी को गिरफ्तार करते हुए कमिश्नरेट पुलिस ने गैंग का खुलासा किया था। इसके बाद पटना निवासी मास्टरमाइंड पीके, पटना सचिवालय में लिपिक उसके बहनोई रितेश कुमार सहित 14 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। 
पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने बताया कि वांछित मृत्युंजय देबनाथ, दिव्य ज्योति नाग उर्फ देबू, आशुतोष राज, मुन्तजिर, डॉ अफ़रोज, प्रवीण, प्रमोद, हामिद रजा, साइबर कैफे संचालक कोटा, पीयूष, चंदन, संजीव, पटना निवासी डॉ गणेश, डॉ गुरु प्रसाद, छपरा की चिकित्सक डॉ प्रिया, प्रदीप्तो भौमिक, अंकुर, देवी प्रसाद राय उर्फ यश, सुरेंद्र प्रताप सिंह और पंकज शर्मा की गिरफ्तारी को दबिश दी जा रही है।  
बलरामपुर में बसपा नेता है डॉ अफरोज का चाचा

नीट सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में सॉल्वर बैठाकर परीक्षा पास कराने का ठेका लेने वाले डॉ. अफरोज का चाचा बलरामपुर में बसपा नेता है। इस विधानसभा चुनाव में तैयारी भी कर रहा है। पुलिस को आशंका है कि बसपा नेता की आड़ में ही डॉ. अफरोज छुपा हुआ है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

महज 20 रूपये के लिए रेलवे से लड़ा 22 साल मुकदमा और जीता,जानें क्या है मामला