बीएड प्रवेशपत्र मामले में कुलपति ने कालेज प्रशासन को किया तलब


परीक्षा फार्म न भरने के कारण कालेज ने नहीं किया सत्यापन

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर की बीएड तृतीय सेमेस्टर के विद्यार्थियों का प्रवेश पत्र न जारी करने के आरोप को कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने गंभीरता से लिया है। इस संबंध में मऊ के डा. भीमराव अंबेडकर महाविद्यालय के विद्यार्थी सोमवार को कुलपति से मिले थे। इस पर उन्होंने महाविद्यालय प्रशासन को मंगलवार को तलब किया। इस दौरान वहां के विद्यार्थी भी उपस्थित थे।
दोनों पक्षों को सुनने के बाद पता चला कि विद्यार्थियों ने परीक्षा फार्म ही नहीं भरा। इस कारण महाविद्यालय की ओर से सत्यापन की प्रक्रिया पूरी नहीं की गई और विश्वविद्यालय को उनका फार्म नहीं भेजा गया जिस कारण उनका प्रवेश पत्र जारी नहीं हुआ। इसके लिए विश्वविद्यालय कहीं से दोषी नहीं है। महाविद्यालय की ओर से सत्यापित कर जब परीक्षा फार्म विश्वविद्यालय को आता है तब प्रवेश पत्र जारी किया जाता है। इस संबंध में विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक वीएन सिंह ने कहा कि महाविद्यालय से जितने भी फार्म सत्यापित होकर आते हैं उन्हें विश्वविद्यालय प्रवेशपत्र जारी कर देता है। पिछले वर्ष कोविड-19 के दौरान बिना शुल्क के ही विश्वविद्यालय ने छात्रहित को देखते हुए प्रवेशपत्र जारी कर दिया था। हमारे लिए छात्र हित सर्वोपरि है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन